कुछ माह पहले तेलंगाना की राजधानी हैदराबाद (Hyderabad) में ऑनर किलिंग (honour killing) का एक वीभत्स मामला सामने आने के बाद राज्य के मनचेरियल (Mancherial) जिले में दिल को दहलाने वाली घटना घटी है. परिजनों की इच्छा के खिलाफ दूसरी जाति के एक लड़के से प्यार करने और बाद में उससे शादी करने की वजह से एक लड़की के पैरेंट्स ने ही बीच सड़क पर सरेआम पीट-पीटकर उसकी हत्या कर दी. मनचेरियल पुलिस के मुताबिक कालामडुगू गांव की लड़की पिंडी अनुराधा पिछले कुछ साल से गांव के ही अय्योरू लक्ष्मीराजम उर्फ लक्ष्मण से प्यार करती थी. अनुराधा पद्माशाली जाति से थी जबकि लक्ष्मण यादव जाति है. दोनों जातियां ओबीसी में आती हैं.

हिंदुस्तान टाइम्स की एक रिपोर्ट के मुताबिक इस महीने की तीन तारीख को प्रेमी जोड़े ने हैदराबाद के एक आर्य समाज मंदिर में दोस्तों की मौजूदगी में शादी कर ली. हैदराबाद में तीन सप्ताह बिताने के बाद वे जन्नाराम लौटे और स्थानीय पुलिस से संरक्षण की मांग की. इसके बाद शनिवार को शाम करीब सात बजे पुलिस ने अपनी सुरक्षा में युगल को गांव ले जाकर लक्ष्मण के परिजनों के हवाले कर दिया. नई दंपति के गांव आने की सूचना पर अनुराधा के माता-पिता और परिजन लक्ष्मण के घर पहुंचे और उसे खूब भला-बुरा कहा.

ट्रेन के टॉयलट से बहाया गया था नवजात बच्चा, शुक्र है कि जीवित मिला

पुलिस ने बताया कि इसके बाद परिजन जबर्दस्ती अनुराधा को अपने घर लेकर गए. वे रास्ते में अनुराधा को बेरहमी से मारते-पीटते रहे. जब तक उसने दम नहीं तोड़ दिया तब तक वे उसे पीटते रहे. इसके बाद उनलोगों ने अनुराधा के शव को निर्मल जिले के मल्लापुर गांव ले जाकर जला दिया. अनुराधा के परिजन रविवार सुबह अपने गांव लौटे. इसके बाद लक्ष्मण की शिकायत पर पुलिस ने अनुराध के माता-पिता को हिरासत में लेकर पूछताछ की तो उनलोगों ने अपना अपराध कबूल कर लिया. गौरतलब है कि पिछले दिनों हैदराबाद में एक दूसरी जाति के लड़के से शादी करने के पर लड़की के पिता ने फिरौती देकर लड़के को बीच सड़क पर हत्या करवा दी थी.