देश की आर्थिक राजधानी मुंबई में पेट्रोल ने 80 रुपये का आंकड़ा पार कर लिया है. कच्चे तेल की कीमतों में बढ़ोतरी और बढती मांग को पेट्रोल की कीमतों में इजाफे का कारण बताया जा रहा है. बुधवार को राजधानी दिल्ली में भी पेट्रोल का दाम 72.43 रुपये प्रति लीटर और डीजल की 63.38 है. शुक्रवार को ब्रेंट क्रूड ऑइल 69 प्रतिशत घटकर 68.53 डॉलर प्रति बैरल पर पहुंच गया, जिसके बाद सोमवार को पेट्रोल की कीमत 15 पैसे बढ़ गई. Also Read - Diesel-Petrol Rate Hike: 2 साल में पहली बार इतना महंगा हुआ पेट्रोल-डीज़ल, 17 दिन में 14 बार बढ़े दाम, उच्च स्तर पर कीमतें

Also Read - अक्टूबर में पेट्रोल के बाद डीजल की मांग में बढ़ोतरी दर्ज, कोविड के पहले के स्तर पर पहुंची

What is petrol price today 24 january 2018 in your city? | आपके शहर में आज क्या है पेट्रोल की कीमत, एक मिनट में जानें!

What is petrol price today 24 january 2018 in your city? | आपके शहर में आज क्या है पेट्रोल की कीमत, एक मिनट में जानें!

पेट्रोल और डीजल के दाम कैसे तय होते हैं: Also Read - Petrol-Diesel Price: लगातार 21वें दिन नहीं बदले पेट्रोल-डीजल के दाम, जानिए-आज तेल के भाव

  • सबसे पहले खाड़ी या अन्य देशों से पेट्रोल ख़रीदा जाता है.
  • फिर उसमें ट्रांसपोर्ट का शुल्क जोड़ा जाता है.
  • क्रूड तेल को रिफाइन किया जाता है और इसका शुल्क भी जोड़ा जाता है.
  • फिर इस पर केंद्र सरकार की एक्साइज ड्यूटी और डीलर का कमीशन जोड़ा जाता है.
  • इसके बाद राज्य अपना टैक्स लगते हैं और फिर ग्राहकों के लिए कीमत तय की जाती है.

इस तरह पेट्रोल-डीजल खरीदने से लेकर ग्राहक के पास पहुंचने तक इसके दाम काफी ज्यादा बढ़ जाते हैं. अगर केंद्र और राज्य सरकार टैक्स कम करती है तो लोगों को राहत मिलती है. एक्सपर्ट्स की मानें तो 2019 तक कच्चे तेल की कीमत 100 डॉलर प्रति बैरेल पहुंच सकती है. इसका मतलब यह है कि आने वाले दिनों में पेट्रोल और डीजल के दामों में और इजाफा हो सकता है.

भारत सऊदी अरब, इराक, ईरान, कुवैत समेत अन्य देशों से तेल लेता है. गौर करने वाली बात ये है कि भारत के पड़ोसी देश पाकिस्तान में पेट्रोल यहां के मुकाबले बेहद सस्ता 44.05 प्रति लीटर है. वहीं नेपाल में 68.13, बांग्लादेश में 76.97 और श्रीलंका में 54.75 रुपये प्रति लीटर है.