नई दिल्ली. इनकम टैक्स डिपार्टमेंट ने पैन नंबर को आधार कार्ड से जोड़ने की एक नई ई-सुविधा शुरू की है. इनकम टैक्स डिपार्टमेंट के नये नियमों के मुताबिक आईटीआर फाइल करने के लिए आधार नंबर और पैन नंबर को लिंक करना जरूरी कर दिया गया है. इनकम टैक्स डिपार्टमेंट ने अपनी वेबसाइट पर इसके लिए एक विशेष लिंक दिया है. इस लिंक पर क्लिक कर आप पैन नंबर और आधार कार्ड को आपस में लिंक कर सकते हैं.Also Read - Income Tax Saving Investments: कैसे कम करें इनकम टैक्स देनदारी, जानिए- कर देयता को कम करने के अचूक उपाय

लिंक करने के लिए ये हैं जरूरी सूचनाएं
आधार कार्ड को पैन नंबर से लिंक करने के लिए अपने आधार नंबर, आधार कार्ड में अंकित अपने नाम को (स्पेलिंग आधार कार्ड के मुताबिक), बर्थ डेट और जेंडर एक पेपर में लिख लें. इसके अलावा आपको पैन कार्ड नंबर की भी जरूरत होगी. Also Read - Income Tax Penalty: ITR फाइल करने में देरी पर लग सकता है 5,000 रुपये का जुर्माना, इन टैक्सपेयर्स को ही मिलेगी छूट

आधार कार्ड को पैन नंबर से जोड़ना बेहद आसान है. इसके लिए इनकम टैक्स की वेबसाइट http://incometaxindiaefiling.gov.in पर जाएं। यहां होम पेज पर लेफ्ट साइड सर्विस कॉलम में आपको एक नया लिंक दिखेगा, जहां लिंक आधार (Link Aadhaar) अंग्रेजी में लिखा हुआ दिखेगा. आप सारी जरूरी सूचनाएं लिखने के बाद इस लिंक पर क्लिक करें. (देखें स्क्रीनशॉट) Also Read - How to link PAN with Aadhaar Card: सरकार ने जारी किया अलर्ट, 30 सितंबर के पहले करें ये काम, नहीं तो बेकार हो जाएगा पैन कार्ड

aadhar

इस पर क्लिक करते ही एक नया पेज खुल जाएगा. इस पेज में आपको पैन नंबर उसके बाद आधार नंबर लिखना होगा. इसके बाद आपको अगले बॉक्स में अपना नाम लिखना पड़ेगा, इस दौरान आपको ध्यान रखना है कि आप इस बॉक्स में अपने नाम की वही स्पेलिंग लिखें जो आपके आधार कार्ड पर लिखा है. इसके बाद UIDAI इन सूचनाओं की जांच करता है, इस वेरिफिकेशन के पूरा होते ही आपका आधार पैन कार्ड से लिंक हो जाता है.

aadhar1

अगर नाम होता है मिसमैच
अगर आपके द्वारा दी गई जन्मतिथि और लिंग आयकर विभाग के डाटा से मैच कर जाता है लेकिन नाम मैच नहीं करता है, आपको Aadhaar OTP आधार वन टाइम पासवर्ड की जरूरत होगी. आपके रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर पर आधार OTP भेजा जाएगा. इस आधार ओटीपी को डालकर आप लिंकिंग प्रक्रिया पूरी कर सकते हैं. बता दें कि सरकार ने अब पैन कार्ड लेने के लिए आधार नंबर अनिवार्य कर दिया है. आधार नंबर को UIDAI जारी करता है, जबकि 10 अंको के पैन नंबर को आयकर विभाग जारी करता है. दोनों ही दस्तावेज कई सरकारी कामों के लिए अनिवार्य हैं.

इस सुविधा का इस्तेमाल करने के लिए आयकर विभाग की ई-फाइलिंग वेबसाइट पर रजिस्ट्रेशन की आवश्यकता नहीं होगी. इसे कोई भी उपयोग कर सकता है. किसी प्रकार की विफलता से बचने के लिए दोनों पहचान कार्डों पर उल्लेखित जन्मतिथि एक समान होना जरूरी है. गौरतलब है कि सरकार ने वित्त अधिनियम 2017 के तहत पैन और आधार को आपस में जोड़ना अनिवार्य कर दिया है. यह एक जुलाई 2017 से प्रभापी होगा.