श्रीनगर: हुर्रियत कांफ्रेंस के अध्यक्ष मीरवाइज उमर फारूक ने शुक्रवार को कहा कि प्रचंड बहुमत ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को कश्मीर मुद्दे के समाधान में निर्णायक भूमिका निभाने का मौका दिया है.

फारूक ने उम्मीद जतायी कि पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान की बातचीत की पेशकश को राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन की नई सरकार गंभीरता से लेगी.

मोदी सरकार का एक और बड़ा फैसला: हर किसान को सम्मान योजना का लाभ, 3 हजार रुपए पेंशन भी मिलेगी

अलगाववादी नेता ने कहा, “भारत के लोगों ने मोदी और उनकी पार्टी को सत्ता में वापस लाने के लिए भारी मतदान किया. यह जनादेश मोदी को काफी समय से लंबित कश्मीर समस्या के समाधान में निर्णायक भूमिका निभाने का मौका देता है.” मीरवाइज रमजान के आखिरी शुक्रवार ‘जुमात-उल-विदा’ पर यहां जामा मस्जिद में नमाज में खुतबा (उपदेश) दे रहे थे.