नई दिल्ली: केरल में धर्म परिवर्तन का एक मामला सामने आया है. महिला ने अपने पति के खिलाफ शिकायत दर्ज कराते हुए आरोप लगाया है कि उसके पति ने उसे जबरदस्ती इस्लाम कबूल करवाया साथ ही उसे आईएसआईएस में बेचने की कोशिश भी की. महिला की शिकायत पर पति को गिरफ्तार कर लिया गया है. बता दें कि केरल के एक छोटे से गांव पथानामथिट्टा की रहने वाली महिला ने अपने पति के खिलाफ केरल हाईकोर्ट में याचिका दायर की थी. जिसमें उसने कहा कि वह सेक्सुअल गुलाम बनाए जाने की कोशिश, धोखे से शादी और जबरदस्ती धर्म परिवर्तन की पीड़िता है. Also Read - UP: तीन साल की बच्‍ची का अपहरण कर पंजाब भागी बुआ, प्रेमी के साथ अरेस्‍ट

ISIS में बेचने के लिए ले गया सऊदी अरब Also Read - UP: Mukhtar Ansari से जुड़े लोगों की प्रॉपर्टी को लखनऊ में ढहाना शुरू किया गया

एनआईए के प्रवक्ता ने एक बयान में कहा कि 25 साल की महिला की शिकायत पर नौ लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया गया. महिला का आरोप है कि मुहम्मद रियास रशीद ने उसे लुभाकर उसकी आपत्तिजनक तस्वीरें लीं तथा उसे अवैध रूप से बंद रखा. एनआईए प्रवक्ता के मुताबिक, शिकायतकर्ता ने यह भी कहा कि आरोपी ने उससे धोखाधड़ी करके शादी की और जबरन इस्लाम धर्म कबूल करवाया. एनआईए के अनुसार, रशीद ने उसे केरल में अवैध रूप से कैद रखा और धमकी दी. इसके बाद वह आतंकी संगठन आईएसआईएस में शामिल होने के लिए अगस्त 2017 में सऊदी अरब के जेद्दाह ले गया. Also Read - Gujarat: कोरोना वायरस संक्रमण के 480 नए मामले, मौत का कोई नया मामला नहीं

रशीद के अलावा प्राथमिकी में कन्नूर के नहास अब्दुलखादर, पेरिगडी के मुहम्मद नजीश टी के, कन्नूर के अब्दुल मुहासिन, बेंगलुरू के दानिश नजीब, बेंगलुरू के गजीला, पेरूवरम के फवस जमाल, बेंगलुरू के मोइन पटेल और बेंगलुरू के इलियास मोहम्मद को नामजद किया गया था.

पीड़ित महिला के पिता ने इस मामले की जांच एनआईए से कराने की याचिका दायर की थी. दिसंबर में केरल पुलिस ने इस केस को रजिस्टर्ड किया और इंटरपोल से संपर्क कर महिला के पति को भारत लाने की कोशिशें शुरू की. आरोपी मोहम्मद रियास रशीद को इस महीने की 4 फरवरी को गिरफ्तार कर लिया गया है. वह सऊदी अरब के जेद्दा में काम करता था.