हैदराबाद: तेलंगाना हैदराबाद में 25 साल की वेटनरी डॉक्‍टर से गैंगरेप और हत्या के मामले में गिरफ्तार किए गए चार आरोपी शुक्रवार सुबह पुलिस के साथ मुठभेड़ में मारे गए. एनकाउंटर से उठ रहे सवालों के बीच पुलिस ने दावा किया है कि आरोपियों ने पुलिस के हथियार छीने और गोलियां चलाईं, इस पर तुरंत जवाबी कार्रवाई में वे मारे गए हैं.

पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि घटना सुबह साढ़े छह बजे की है. जांच के लिए पुलिस आरोपियों को घटनाक्रम की पुनर्रचना के लिए घटनास्थल पर ले गई थी.

पुलिस अफसर ने कहा, ”उन्होंने (आरोपी) पुलिस से हथियार छीने और पुलिस पर गोलियां चलाई. आरोपियों ने भागने की कोशिश की जिसके बाद पुलिस ने जवाब में गोलियां चलाई. इस दौरान चार आरोपी मारे गए.”

पु‍लिस अफसर ने बताया कि इस घटना में दो पुलिसकर्मी भी घायल हुए हैं.

बता दें कि हैदराबाद में पशु चिकित्सक युवती का बलात्कार और हत्या के चारों आरोपियों की आयु 20 से 24 वर्ष थी. उनमें से एक लॉरी चालक था और बाकी हेल्पर थे. उन्हें 29 नवंबर को गिरफ्तार किया गया था. आरोपियों ने बलात्कार के बाद युवती की गला दबाकर हत्या कर दी थी और बाद में शव को जला दिया था.

आरोपियों को सात दिन की न्यायिक हिरासत में भेजा गया था. चारों आरोपियों के मुठभेड़ में मारे जाने पर पीड़िता की बहन ने प्रसन्नता जताई हैं. वहीं, नेताओं ने कुछ ने इस एनकाउंटर पर सवाल उठाएं हैं, वहीं, कई नेताओं ने इस कार्रवाई के पक्ष में बयान दिए हैं और पुलिस का समर्थन किया है.