नई दिल्ली: दिल्‍ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने बुधवार को कहा कि राष्ट्रीय राजधानी के उत्तर पूर्वी क्षेत्र में हुए सांप्रदायिक दंगों और कोरोना वायरस के चलते वह होली नहीं मनाएंगे. मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा, मैं इस साल भी होली नहीं मना रहा हूं, इसकी वजह कोरोना वायरस और हाल ही में दिल्ली में हुई हिंसा में कई लोगों की जान चली गई. लोगों को इस बात का दुख है. यही कारण है कि न तो मैं और ना ही कोई मंत्री या विधायक होली मनाएगा. Also Read - Coronavirus: धार्मिक स्‍थलों के लिए SOP जारी, घंटी, मूर्ति छूना है प्रतिबंधित, पढ़ें नियम

सीएम अरविंद केजरीवाल ने कहा, कोरोना वायरस के कारण उत्पन्न स्थिति को नियंत्रित करने के लिए एक राज्य स्तरीय टास्क फोर्स का गठन किया गया है. इसकी अध्यक्षता मेरे द्वारा की जाएगी. इसमें कई एजेंसियों, विभागों और निगमों के सदस्य शामिल हैं. प्रत्येक सदस्य को एक भूमिका सौंपी गई है. Also Read - कोरोना मरीजों को भर्ती करने के लिए होटलों के इस्तेमाल पर पुनर्विचार करे दिल्ली सरकार: भारतीय उद्योग परिसंघ

केजरीवाल ने दिल्‍ली में एक आयोजित एक प्रेस कॉन्‍फेंस में कहा कि वह और उनकी पार्टी के विधायक दंगों के कारण होली नहीं मनाएंगे. बता दें कि केजरीवाल आम आदमी पार्टी के राष्ट्रीय संयोजक भी हैं.

संशोधित नागरिकता कानून के विरोध के दौरान उत्तर पूर्वी दिल्ली में भड़के सांप्रदायिक हिंसा में कम से कम 42 लोगों की मौत हो चुकी है और 200 से अधिक घायल हुए थे.