जम्मू| जम्मू-कश्मीर की मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती ने हालात का हवाला देते हुए कश्मीर में विवादित अफ्सपा को हटाने से इनकार कर दिया और कहा कि भारतीय सेना पूरी दुनिया में सबसे अनुशासित है. महबूबा ने कहा कि कश्मीर की बिगड़ती सुरक्षा स्थिति की वजह से घाटी में सेना की तैनाती में बढ़ोत्तरी हुई है.

उन्होंने कहा, भारतीय सेना दुनिया में सबसे ज्यादा अनुशासित है. वे सुरक्षा व्यवस्था बेहतर करने में लगे हुए हैं. उन्हीं की वजह से हमलोग आज यहां पर है. उन्होंने काफी बलिदान दिये हैं.

कश्मीर के लिए जहन्नुम जाने को तैयार महबूबा
जम्मू-कश्मीर विधानसभा में विपक्ष के नेता उमर अब्दुल्ला के साथ तीखे नोंक-झोक में मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती ने कहा कि कश्मीर को बचाने के लिए वह जहन्नुम में जाने के लिए भी तैयार हैं. उमर अब्दुला ने यह कहते हुए पीडीपी-भाजपा सरकार के बीच दरार पैदा करने की कोशिश की कि उसने शैतान के साथ समझौता किया है.

अपने संबोधन के दौरान अब्दुला ने फाउस्ट और शैतान की कहानी के बारे में बताया जो एक व्यक्ति और शैतान या भूत के बीच हुए एक समझौते की कहानी है जिसमें वह व्यक्ति अपनी आत्मा उस शैतान से अदला-बदली करते हैं. इस कहानी का उद्धरण देते हुए उमर अब्दुल्ला ने कहा कि कश्मीर में आज की स्थिति उस कहानी की याद दिलाती है.

उमर ने शोपियां जिले में सुरक्षा बलों द्वारा की गई गोलीबारी में तीन लोगों की मौत के मामले की विशेष जांच दल (एसआईटी) द्वारा एक उच्च स्तरीय जांच कराये जाने की मांग की है. गौरतलब है कि शोपियां जिले में पत्थरबाजों ने सुरक्षा बलों के एक काफिले पर हमला कर दिया था, जिसके बाद सुरक्षा बलों ने बचाव में गोलीबारी कर दी थी.

उमर ने कहा, आप (महबूबा) फाउस्ट की तरह उनके सामने विनती कर रही हैं. इस पर महबूबा ने जवाब देते हुए कहा, इस जन्नत को बचाने के लिए उन्हें 100 बार भी जहन्नुम में जाना कबूल है.