नई दिल्ली: जम्मू कश्मीर के सुंजवान सेना पर हुए हमले के बाद जम्मू कश्मीर के लोगों में राष्ट्र भावना देखने को मिली. आतंकियों ने जिस मकान को हमले की साजिश रचने से पहले ठिकाना बनाया था और उसकी दीवार पर गो इंडिया, गो बैक के नारे लिखे गए थे. अब उसी दीवार पर स्थानीय लोगों ने पुराने नारों को मिटाकर उसकी जगह वंदे मातरम, भारतीय सेना जिंदाबाद, आई लव माय इंडिया और जय हिंद लिख दिया है. मुस्लिम बहुल इलाके भठिंडी, नूराबाद, जलालाबाद में लिखे नारों में लोगों ने यह संदेश दिया है कि वे राष्ट्रभक्त हैं और सुंजवान हमले की पुरजोर निंदा करते हैं.Also Read - कश्मीर के बाद पंजाब में टार्गेट किलिंग की प्लानिंग का भंडाफोड़, कनाडा-पोलैंड से जुड़े तार

Also Read - Jammu and Kashmir: कश्मीर घाटी के कुछ हिस्सों में मोबाइल इंटरनेट सेवाएं निलंबित, गैर स्थानीय नागरिकों की हत्याओं....

गो रोहिंग्या, गो बैक के नारे भी इलाके में कई जगह लिखे पाए गए हैं. हमले में रोहिंग्याओं के संलिप्त होने के आरोप लगे हैं. बता दें कि सुंजवान हमले के वक्त इस क्षेत्र में देश के खिलाफ एक इमारत की दीवार पर गो इंडिया, गो बैक के नारे लिखे देखे गए थे. जम्मू कश्मीर के लोगों में इसको लेकर विरोध देखने को मिला था. वहीं कई संगठनों ने तो सड़क पर उतरकर इसके खिलाफ विरोध भी दर्ज कराया था. सुरक्षा एजेंसियों के मुताबिक सुंजवां हमले के तार दक्षिण कश्मीर से जुड़ रहे हैं. सेना की सहायता से सुरक्षा एजेंसियां यहां के लोगों से पूछताछ कर रही हैं. यह भी पढ़ें: सुंजवान आर्मी कैंप पर आतंकी हमले के बाद पाकिस्तान को सता रहा सर्जिकल स्ट्राइक का डर Also Read - कश्मीर में हाई अलर्ट: उरी हाइड्रो पावर प्रोजेक्ट्स और इमरजेंसी लैंडिंग स्ट्रिप पर हमला कर सकते हैं आतंकी

सुरक्षा एजेंसियों का मानना है कि हमलावरों ने इन्हीं इलाकों में रहकर रेकी की. वहीं स्थानीय लोगों का कहना है कि कुछ शरारती लोग पूरे इलाके को बदनाम करने की कोशिश कर रहे हैं. उन्होंने कहा कि यहां पर हुए हमले के बाद इस इलाके के लोगों पर उंगली उठने लगी थी कि हमला करने वाले संदिग्ध इसी इलाके से ताल्लुक रखते हैं. लेकिन ऐसा कुछ नहीं है. हम हिंदुस्तानी है, हम भारत का अभिन्न हिस्सा हैं.