नई दिल्ली. पुलवामा हमल के 12 दिन बाद भारतीय सेना ने जैश-ए-मोहम्मद पर बड़ी कार्रवाई करते हुए पीओके में घुसकर उसके आतंकी कैंपों को तबाह कर दिया. खास बात है कि इस बार इसकी जानकारी खुद पाकिस्तान की तरफ से आई है. पाकिस्तानी सेना के प्रवक्ता जनरल आसिफ गफूर ने ट्वीट कर कहा, भारतीय वायुसेना ने मुजफ्फराबाद सेक्टर से LOC क्रॉस करने की कोशिश की. पाकिस्तानी सेना की ओर से समय रहते जवाबी कार्रवाई की गई. इसमें किसी तरह का नुकसान नहीं हुआ है.
Also Read - पाकिस्तान के लाहौर में कोरोना वायरस के 6,70,000 मामले! रिपोर्ट में चौकाने वाला दावा

बता दें कि मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, भारतीय वायुसेना की 12 ‘मिराज 2000’ (Mirage 2000) फाइटर प्लेन ने सोमवार-मंगलवार की दरमियानी रात लगभग 3 बजे LOC क्रॉस करके पाकिस्तानी सीमा में दाखिल हो ताबड़तोड़ कार्रवाई करते हुए 1000 से ज्यादा बम गिराए. इसमें जैश-ए-मोहम्मद का अल्फा-3 कंट्रोल रूम भी तबाह हुआ है. बताया जा रहा है कि भारतीय वायुसेना ने तीन जगह कार्रवाई की है.

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, बालाकोट में जैश का कंट्रोल रूम पूरी तरह से तबाह कर दिया गया है. वायुसेना ने 12 आतंकी ठिकानों पर कार्रवाई की है. चकोटी और मुज्फ्फराबाद में भी आतंकियों के कई ठिकानों पर सेना ने कार्रवाई की है. एनएसए ने प्रधानमंत्री को पूरी कार्रवाई की जानकारी दी है.
Also Read - जासूसी में दो अफसरों के निष्‍कासन से तिलमिलाए पाक ने भारतीय राजनयिक को तलब किया

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, 12 मिराज विमानों और 2000 लड़ाकू विमान ने एक साथ हमला करते हुए आतंकी ठिकानों को नष्ट किया. इस दौरान 1000 किलो बम वहां गिराए गए. इसके साथ ही लाइन ऑफ कंट्रोल को पार कर टेरर कैंप तबाह करते हुए सभी विमान भारतीय सीमा के अंदर लौट आए. Also Read - गृह मंत्री अमित शाह ने दिखाए सख्त तेवर, बोले- भारत अपनी सीमाओं पर किसी भी तरह का उल्लंघन बर्दाश्त नहीं करेगा