Bipin Rawat’s Chopper Crash: तमिलनाडु में कुन्नूर के पास हुए हेलीकॉप्टर हादसे में चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ (CDS) जनरल बिपिन रावत (General Bipin Rawat) और उनकी समेत 13 लोगों का निधन हो गया. हेलीकॉप्टर में कुल 14 लोग सवार थे. भारतीय वायुसेना ने CDS जनरल बिपिन रावत, उनकी पत्नी और 11 अन्य लोगों की हेलीकॉप्टर हादसे में मौत की पुष्टि की है. हेलीकॉप्‍टर हादसे में केवल भारतीय वायुसेना के ग्रुप कैप्‍टन वरुण सिंह की ही जान बच सकीत है. भारतीय वायुसेना की तरफ से एक ट्वीट कर बताया गया, ‘ग्रुप कैप्‍टन वरुण सिंह (Group Captain Varun Singh) हादसे में घायल हुए हैं और उनका वेलिंगटन के मिलिट्री हॉस्पिटल में इलाज चल रहा है.’Also Read - Assembly Elections 2022: चुनाव के ऐलान के बाद UP में भाजपा के कार्यकर्ताओं से आज पहली बार बात करेंगे PM मोदी

Also Read - PM मोदी आज WEF के दावोस एजेंडा में 'स्टेट ऑफ द वर्ल्ड' को करेंगे संबोधित

हेलिकॉप्टर दुर्घटना में घायल हुए भारतीय वायु सेना के ग्रुप कैप्टन वरुण सिंह (Group captain varun Singh) को पिछले साल उड़ान के दौरान विमान में आई तकनीकी खराबी के बाद इसे साहस के साथ संभालने के लिए स्वतंत्रता दिवस पर शौर्य चक्र (Shaurya Chakra) से सम्‍मानित किया गया था. उन्‍होंने अपने कौशल का प्रदर्शन करते हुए तेजस (TEJAS) लड़ाकू विमान को सुरक्षित लैंड कराया था. Also Read - रक्षा मंत्री Rajnath Singh के बेटे और Noida से विधायक Pankaj Singh कोरोना वायरस से संक्रमित

मालूम हो कि चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ जनरल बिपिन रावत (CDS Bipin Rawat) वायुसेना के एमआई-17वीएच हेलीकॉप्टर से बुधवार दोपहर करीब तीन बजे निर्धारित लेक्चर देने के लिए कुन्नूर जिले के वेलिंगटन स्थित डिफेंस सर्विसेज स्टाफ कॉलेज जा रहे थे, जब यह भयानक हादसा हुआ.