नई दिल्ली: सिविल सेवा (Civil Services) में कोई भी बड़ा अवसर मिलने के बाद रंग-ढंग बदल ही जाते हैं, लेकिन आईएएस राम सिंह (IAS Officer Ram Singh) इस मामले में मिसाल के रूप में सामने आए हैं. Also Read - सत्यपाल मलिक का फिर हुआ ट्रांसफर, जम्मू कश्मीर के बाद गोवा और अब बनाए गए इस राज्य के राज्यपाल...

नौकर-चाकर नहीं बल्कि वह अपने लिए सब्जी खुद खरीदने जाते हैं. यही नहीं इसके लिए हर हफ्ते 10 किलोमीटर तक पैदल चलते हैं. लोकल बाजार से एक ही बार में 20 किलो से अधिक सब्जी खरीद लेते हैं और किसी कार से नहीं बल्कि इतना वजह वह खुद पीठ पर लादकर पैदल चलते हैं. इस दौरान उनकी पत्नी उनके साथ होती हैं. Also Read - Weather Alert: देश के कई राज्‍यों में छाए बादल, कहीं-कहीं भारी बारिश की चेतावनी

मेघालय (Meghalaya) के पश्चिम गारो हिल्स (West Garo Hills) के तुरा (Tura) में डीएम (District Magistrate) के तौर पर तैनात आईएएस अफ़सर राम सिंह (IAS Ram Singh) की लाइफ स्टाइल ऐसी है कि लोग उनके आईएएस होने पर यकीन ही नहीं कर पाते हैं. Also Read - Meghalaya MBOSE HSSLC 12th Result 2020: मेघालय बोर्ड ने जारी किया रिजल्ट, इस लिंक से डाउनलोड करें अपना परीक्षा परिणाम

राम सिंह वाहन का कम इस्तेमाल करते हैं. प्लास्टिक का इस्तेमाल करने से बचते हैं और खूब पैदल चलते हैं. बच्चों के साथ टहलते हैं. साइकिल चलाते हैं. कभी पत्नी तो आम लोगों के साथ दौड़ते हैं. कभी आम लोगों/मजदूरों के साथ वाहन में सफर करते हैं. किसी पहाड़ पर चढ़ते नजर आते हैं तो कभी किसी नदी या झरने में नहाते दिखते हैं. राम सिंह ने एक फोटो फेसबुक पर शेयर करते हुए लिखा कि एक हफ़्ते के लिए 21 किलो सब्ज़ियों की खरीदारी की. प्लास्टिक नहीं, गाड़ी का प्रदूषण नहीं, ट्रैफ़िक जाम नहीं, फिट इंडिया, फिट मेघालय, ऑर्गेनिक खाना, स्वच्छ और हरा भरा. 10 किलोमीटर सुबह का टहलना.

राम सिंह ने इंडियन एक्सप्रेस से बात करते हुए कहा कि मैं ऐसा पिछले 6 महीने से कर रहा हूं. मुझे मॉडर्न चुनौतियों के बारे में पता है और सॉल्यूशन के बारे में भी. अगर हम परंपरागत तरीके से चलेंगे, तो फ़िट रहेंगे. वह लोगों को वाहनों का कम इस्तेमाल करने और सादा स्वच्छ जीवन जीने के लिए प्रेरित करने की खातिर ऐसा कर रहे हैं. राम सिंह का ये अंदाज लोगों को भा रहा है. उनके पोस्ट वायरल हो रहे हैं. लोग उनके ‘सादा जीवन और उच्च विचार’ की जमकर तारीफ़ कर रहे हैं. लोगों का कहना है कि ये ब्यूरोक्रेसी का नया चेहरा है. उनकी मानवता प्रभावित करने वाली है.

IAS जो सब्जी खरीदने 10KM जाते हैं पैदल, मजदूरों संग करते हैं सफर, देखें अनोखी Life Style के ये फ़ोटोज़