नई दिल्ली. गुजरात विधानसभा चुनाव की तारीख अभी मुकर्रर नहीं हुई है. लेकिन सियासी पार्टियों में वर्चस्व की लड़ाई शुरू हो गई है. माना जा रहा है कि इस बार कांग्रेस और बीजेपी में कांटे की टक्कर है. कांग्रेस ने बीजेपी पर हमला तेज कर दिया है. कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और पूर्व सीएम नेता अशोक गहलोत ने दावा किया कि आईबी और पुलिस ने गुजरात के होटल के कमरे की तलाशी ली. जहां उन्होंने पाटीदार आंदोलन के नेता हर्दिक पटेल और दलित नेता जिग्नेश मेवानी से मुलाकात किया था.

वरिष्ठ कांग्रेस नेता अशोक गहलोत ने ट्वीट करते हुए बीजेपी की सरकार पर हमला करते हुए कहा कि सभी को पता था कि उमेद होटल में उनकी हर्दिक पटेल और दलित नेता जिग्नेश मेवानी से मुलाकात हुई थी. लेकिन हमारे वहां से जाने के बाद पुलिस और आईबी ने पूरे कमरें की तलाशी ली और सीसीटीवी फुटेज की भी जांच की गई. अपनी नाराजगी को जाहिर करते हुए अशोक गहलोत ने पीएम मोदी को भी ट्वीट किया.

वहीं सूबे में पाटीदार आंदोलन के नेता नरेंद्र  पटेल को बीजेपी में शामिल होने के लिए एक करोड़ रूपये की घूस की पेशकश का पटेल द्वारा आरोप लगाये जाने के बाद कांग्रेस ने मांग की कि बीजेपी के खिलाफ गुजरात में प्राथमिकी दर्ज होनी चाहिए. कांग्रेस ने कहा कि मामले की अदालत की निगरानी में न्यायिक जांच होनी चाहिए.

बता दें कि  राहुल गांधी ने ओबीसी नेता अल्पेश ठाकोर के कांग्रेस में शामिल होने पर यहां आयोजित एक बड़ी रैली में पीएम मोदी पर जमकर हमला किया. राहुल ने कहा कि मोदी ने पिछले साल ‘निजी सनक’ पर नोटबंदी लागू किया, जिसने लाखों लोगों को अचानक परेशानी में धकेल दिया.

लोगों की नींद हराम हो गई, लोग रात-रात भर एटीएम के आगे और दिन में बैंकों की कतार में खड़े रहने को मजबूर हुए। सवा सौ लोगों की मौत हो गई. लोग इस परेशानी से धीरे-धीरे उबरे तो उन्होंने जल्दबाजी में जीएसटी लागू कर दिया. इससे व्यापारी परेशान हैं और आम लोग महंगाई झेलने को विवश हैं.