दुबईः पेप्सीको की चेयरमैन और सीईओ इंदिरा नूयी को अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) की पहली स्वतंत्र महिला निदेशक नियुक्त किया गया है. नूयी जून 2018 में बोर्ड से जुड़ेंगी. आईसीसी की ओर से जारी एक विज्ञप्ति में कहा कि नूयी इस भूमिका के लिए आईसीसी से जुड़ने वाली पहली महिला बनकर रोमांचित हैं. उन्होंने कहा कि आईसीसी और क्रिकेटरों के साथ काम करने का उन्हें इंतजार है. इस बारे में आईसीसी अध्यक्ष शशांक मनोहर ने कहा कि एक और स्वतंत्र निदेशक और वह भी महिला को नियुक्त करना परिषद के संचालन को बेहतर बनाने की दिशा में अहम कदम है. उनकी नियुक्ति दो साल के लिए की गई है लेकिन उन्हें दोबारा नियुक्त किया जा सकता है.Also Read - Bihar के डिप्‍टी CM ने कहा- भारत-पाक के बीच T20 WC मैच रुकनी चाहिए, BCCI उपाध्‍यक्ष ने कही ये बात

Also Read - भारतीय खिलाड़ियों को विराट कोहली के लिए टी20 विश्व कप जीतना चाहिए: सुरेश रैना

Also Read - T20 World Cup 2021: Virat Kohli ने तोड़ी चुप्पी, MS Dhoni के 'मेंटर' बनने पर कही ये बात

महिला स्वतंत्र निदेशक बनाने की पहल जून 2017 में की गई थी. इसके बाद आईसीसी के संविधान में व्यापक स्तर पर बदलाव किया गया. इस बदलाव का मकसद इस संस्था के कामकाज को ज्यादा लोकतांत्रिक बनाने था. नूयी को बिजनेस की दुनिया का एक प्रभावी शख्स माना जाता है. इस नई जिम्मेदारी पर नूयी ने कहा कि उन्हें क्रिकेट बहुत पसंद है. वह टीनएज में क्रिकेट खेलती थी. कॉलेज में भी उन्होंने क्रिकेट खेला और आज भी वह समय मिलने पर यह खेल का लुफ्त उठाती हैं. उन्होंने कहा कि यह गेम उनको टीम के साथ मिलकर काम करने का जज्बा देता है. इंदिरा कृष्णमूर्ति नुई का जन्म 28 अक्टूबर 1955 को हुआ था. दुनिया की प्रभावशाली महिलाओं में उनका नाम शुमार है. वह दुनिया के तमाम संगठनों से जुड़ी हुई हैं.