नई दिल्ली: आईसीआईसीआई बैंक ने पूर्व पेट्रोलियम सचिव गिरीश चंद्र चतुर्वेदी को गैर-कार्यकारी चेयरमैन नियुक्त किया है. आईसीआईसीआई बैंक ने शुक्रवार को यह जानकारी दी. गौरतलब है कि आईसीआईसीआई बैंक की एमडी और सीईओ चंदा कोचर पर लगे आरोपों के बाद से बैंक उच्च प्रशासनिक पदों में फेरबदल कर रहा है. फिलहाल कोचर पर लगे आरोपों की जांच चल रही है जांच जारी रहने तक चंदा कोचर छुट्टी पर हैं. Also Read - ब्रिटिश पीएम बोरिस जॉनसन ने G7 शिखरवार्ता के लिए प्रधानमंत्री मोदी को भेजा न्योता, भारत को बताया ‘दुनिया की फार्मेसी’

आईसीआईसीआई बैंक ने आधिकारिक तौर से जारी एक बयान में कहा कि बैंक के स्वतंत्र निदेशक और चेयरमैन एम के शर्मा का कार्यकाल 30 जून 2018 को समाप्त हो रहा है. बैंक के अनुसार निदेशक मंडल ने एक जुलाई से गिरीश चंद्र चतुर्वेदी की अंशकालिक गैर-कार्यकारी चेयरमैन के रूप में नियुक्ति को मंजूरी दे दी है. गिरीश चंद्र चतुर्वेदी की नियुक्ति एक जुलाई 2018 से तीन वर्ष के लिए प्रभावी होगी. Also Read - India Weather Forecast: पूरे उत्तर भारत में शीत लहर से बढ़ी ठिठुरन, कश्मीर में बर्फबारी तो दिल्ली में बारिश की संभावना

1977 बैच के आईएएस गिरीशचंद्र चतुर्वेदी आईसीआईसीआई बैंक के पार्ट टाइम चेयरमैन होंगे. चतुर्वेदी की नियुक्ति अतिरिक्त (स्वतंत्र) निदेशक के रूप में भी की गई है. बैंक ने कहा, निदेशक मंडल ने एक जुलाई से गिरीश चंद्र चतुर्वेदी की अंशकालिक गैर-कार्यकारी चेयरमैन के रूप में नियुक्ति को मंजूरी दे दी है. इसमें आगे कहा गया है कि यह नियुक्ति निदेशक मंडल के विचार-विमर्श में परिपक्वता और दूरदर्शिता लाएगी. Also Read - Scarlett Wilson sexy photos: 'बाहुबली' से लेकर 'गंदी बात' तक, अपनी बोल्डनेस से सभी को चौंका रही है ये एक्ट्रेस

उल्लेखनीय है कि आईसीआईसीआई बैंक, वीडियोकॉन समूह समेत कुछ अन्य कंपनियों को कर्ज देने में अनियमितताओं के आरोपों के चलते सीईओ चंदा कोचर विभिन्न नियामकीय एजेंसियों की जांच के दायरे में है. बैंक ने जून माह की शुरुआत में घोषणा की थी कि इस मामले में आंतरिक जांच पूरी होने तक चंदा कोचर ने अवकाश पर रहने का फैसला किया है.( इनपुट एजेंसी )