मुंबई: भाजपा पर्चों का इस्तेमाल कर लोगों से यह पूछेगी कि क्या वे उन पार्टियों को वोट देंगे, जिन्होंने 26 फरवरी के हवाई हमले और अगले दिन पाकिस्तान के लड़ाकू विमानों के साथ हवाई जंग के संबंध में देश की सशस्त्र सेनाओं की वीरता पर सवाल उठाए. स्वराज ने कहा, ”हमें सवाल पूछने चाहिए कि क्या हमारे जवानों को आतंकवादी शिविरों पर बम गिराने के बाद शव गिनने चाहिए या हवाई हमला करने के बाद सुरक्षित लौटना चाहिए. भाजपा कार्यकर्ताओं को उन लोगों से सवाल पूछने चाहिए, जिन्होंने हमारे हवाई हमले के असर को लेकर संदेह जताए.

भाजपा की महिला कार्यकर्ताओं की रविवार को मुंबई में एक सभा में वरिष्ठ नेता और विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने संकेत दिया कि 14 फरवरी को पुलवामा हमले के बाद पाकिस्तान के खिलाफ सेना की कार्रवाई सत्तारूढ़ पार्टी के लिए एक चुनावी मुद्दा होगा.

बता दें कि कि 26 फरवरी को हवाई हमले राजनीतिक विवादों के केंद्र में है. विपक्षी दल नरेंद्र मोदी सरकार से जैश-ए-मोहम्मद के ठिकाने पर बम गिराने के बाद मृतकों की संख्या का सबूत मांग रहे हैं.

स्वराज ने कहा, हमें (भाजपा) सवाल पूछने चाहिए कि क्या आप (मतदाता) उन दलों का समर्थन करेंगे जो अलगाववादियों के साथ हैं. हमें लोगों से पूछना चाहिए कि क्या वे उन लोगों के लिए वोट देना चाहते हैं जिन्होंने हमारे जवानों की वीरता पर सवाल उठाए.

स्‍वराज ने कहा, हमारे पास दो पर्चें होंगे, जिनमें से एक में सवालों के जवाब में तार्किक बयान होंगे. भाजपा कार्यकर्ताओं को चुनाव प्रचार अभियान के दौरान इसका इस्तेमाल करना चाहिए. दूसरा पर्चा महिलाओं के लिए सरकार की कल्याणकारी योजनाओं के बारे में होगा. दोनों पर्चें जल्द ही उपलब्ध कराए जाएंगे.