नई दिल्ली: हरियाणा कांग्रेस में लंबे समय से चली आ रही गुटबाजी की खबरों के बीच राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा ने कहा है कि आगामी विधानसभा चुनाव में पार्टी के चेहरे के बारे में निर्णय उचित समय पर लिया जाएगा. साथ ही उन्होंने कहा कि अगर कांग्रेस सत्ता में आई तो लोगों को पुराने दिन लौटाएंगे और पार्टी आलाकमान जो भी फैसला करेंगे उन्हें वह स्वीकार होगा.

योगी आदित्यनाथ का कांग्रेस पर तंज, कहा– ‘जो राम के नहीं वो किसी काम के नहीं’

पार्टी नेतृत्व जो भी फैसला करेगा, वह स्वीकार होगा
उन्होंने नरेंद्र मोदी सरकार और राज्य की मनोहर लाल खट्टर सरकार को ‘विफल’ करार देते हुए कहा कि जनता ने साथ दिया तो लोगों को अच्छे दिन नहीं, बल्कि ‘पुराने दिन’ लौटाए जाएंगे. हुड्डा ने मीडिया  के साथ बातचीत में कहा, ‘‘पार्टी उचित समय पर उचित फैसला करेगी.’’ उनसे सवाल किया गया कि क्या आगामी विधानसभा चुनाव में कांग्रेस किसी चेहरे को आगे करेगी? राज्य में 2019 के लोकसभा चुनाव के कुछ महीने बाद ही विधानसभा चुनाव प्रस्तावित हैं.

छत्तीसगढ़: बीजापुर में सुरक्षा बलों की नक्सलियों से मुठभेड़, एक नक्सली ढेर, सर्च अभियान जारी

एक संवाददाता द्वारा यह पूछे जाने पर कि वह आगामी चुनावों में अपनी क्या भूमिका देखते हैं तो हुड्डा ने कहा, ‘पार्टी नेतृत्व जो भी फैसला करेगा, वह स्वीकार होगा.’ हरियाणा कांग्रेस में गुटबाजी की खबरों को खारिज करते हुए उन्होंने कहा, ‘हमारी पार्टी के नेता सोनिया गांधी और राहुल गांधी हैं. हरियाणा में सभी नेता अपने स्तर से काम कर रहे हैं और पार्टी को मजबूत कर रहे हैं.’’ दरअसल, हरियाणा प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष अशोक तंवर के साथ हुड्डा के मन-मुटाव की खबरें लंबे समय से आ रही हैं. हालांकि दोनों इससे इनकार करते रहे हैं.

कांग्रेस पर विश्वास जताइए, हम वही पुराने दिन लौटाएंगे
इंडियन नेशनल लोक दल (इनेलो) में इन दिनों चल रही कलह पर हुड्डा ने कहा, ‘किसी के पारिवारिक झगड़े पर मुझे कुछ नहीं कहना है. लेकिन पहले भी मैंने कहा था और आज भी कह रहा हूं कि इनेलो का चेहरा बेनकाब हो चुका है और चुनाव आते-आते उसका अस्तित्व खत्म होने जा रहा है.’’नरेंद्र मोदी सरकार और खट्टर सरकार पर निशाना साधते हुए पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा, ‘‘दोनों सरकारें पूरी तरह विफल रही हैं. अब जनता चुनाव का इंतजार कर रही है कि इन्हें सत्ता से हटाया जाए. हरियाणा में तो हर वर्ग परेशान है. लोग हमारे समय के कार्यों को याद कर रहे हैं.’

झोलाछाप डॉक्टर ने क्‍लीनिक पर काम करने वाली महिला की नाबालिग बेटी से किया रेप

उन्होंने कहा, ‘हम तो जनता से यही कह रहे हैं कि आप कांग्रेस पर विश्वास जताइए, हम वही पुराने दिन लौटाएंगे.’’ नोटबंदी को लेकर नरेंद्र मोदी सरकार की आलोचना करते हुए हुड्डा ने कहा, ‘‘नोटबंदी का गरीबों, किसानों, मजदूरों का बुरा असर पड़ा. यह बिना सोचे-समझे किया गया फैसला था. इस पर सरकार को देश से माफी मांगनी चाहिए.’ (इनपुट एजेंसी)