नई दिल्ली: देश के सर्वोच्च पत्रकारिता संस्थान भारतीय जनसंचार संस्थान के ओडिशा स्थित ढेंकनाल सेंटर में सोमवार को सालाना पूर्व छात्र सम्मेलन ‘कनेक्शन ढेंकनाल-2018’ का आयोजन किया गया. इस दौरान संचार के क्षेत्र में लंबे समय से काम कर रहीं सुकन्या जेना को एडवोकेसी केटेगरी में ‘इफको इमको अवार्ड 2018’ से सम्मानित किया गया. यह अवार्ड आईआईएमसी एल्युमनाई एसोसिएशन (इमका) द्वारा हर साल कई श्रेणियों में उत्कृष्ट प्रदर्शन करने वाले अपने पूर्व छात्रों को दिया जाता है.

आईआईएमसी ढेंकनाल कैंपस के ओपन एयर ऑडिटोरियम ‘प्रांगण’ में आयोजित हुए इस कार्यक्रम में इमका ओडिशा चैप्टर के संरक्षक और ढेंकनाल कैंपस के रीजनल डायरेक्टर डॉ. मृणाल चटर्जी, भारतीय विद्या भवन कोलकाता में प्रोफेसर सुबीर घोष, आईआईएमसी दिल्ली में प्रोफेसर विजय परमार और हिंदुस्तान कोका-कोला में पब्लिक अफेयर्स और कम्युनिकेशन एसोसिएट वाइस प्रेसिडेंट कल्याण रंजन शामिल रहे.
IIMC Award

कार्यक्रम की शुरुआत सांस्कृतिक कार्यक्रमों के साथ हुई. आईआईएमसी की पूर्व छात्र इतिश्री सिंह राठौर ने सभी गणमान्य लोगों का स्वागत किया और बैठक का एजेंडा तैयार किया. इस कार्यक्रम में इमका की सेंट्रल कमेटी के प्रतिनिधि कौशल विश्वकर्मा और शिवेंद्र मधुसूदन भी उपस्थित रहे. बैठक की अध्यक्षता कर रहे ओडिशा चैप्टर के प्रेसिडेंट संजय साहू ने भविष्य में इस तरह के कार्यक्रम में ज्यादा से ज्यादा सदस्यों की भागीदारी सुनिश्चित करने की बात कही. उन्होंने कहा कि इस तरह की बैठक और कार्यक्रम का उद्देश्य पूर्व और वर्तमान छात्रों के बीच एक संबंध स्थापित करना होता है.

बता दें कि ओडिशा से पहले 18 फरवरी को दिल्ली में कनेक्शन का आयोजन किया गया था. अब ओडिशा के ढेंकनाल के बाद मुंबई, बेंगलुरू, हैदराबाद, जयपुर, अहमदाबाद, लखनऊ, पटना, रांची, गुवाहाटी, कोलकाता, भोपाल, उज्बेकिस्तान की राजधानी ताशकंद, सिंगापुर से होते हुए सालाना मीट कनेक्शन्स का सिलसिला इस साल चंडीगढ़ में थम जाएगा.