नई दिल्ली: आईआईटी दिल्ली कैंपस के अंदर एक फ्लैट में एक ही परिवार के तीन सदस्यों द्वारा कथित रूप से आत्महत्या करने की घटना सामने आई है. पुलिस ने शनिवार को यह जानकारी दी. वरिष्ठ प्रयोगशाला सहायक गुलशन दास, उनकी पत्नी सुनीता और उनकी मां कामता के शव शुक्रवार देर रात कुमार के आधिकारिक आवास के अंदर अलग-अलग कमरों में लटकती मिले. पुलिस ने बताया कि घटनास्थल से कोई भी सुसाइड नोट बरामद नहीं हुआ है.Also Read - CBI अब महंत नरेंद्र गिरि की मौत के मामले की जांच करेगी, केंद्र सरकार ने दी मंजूरी

Also Read - संक्रमित होने के 30 दिन के अंदर आत्महत्या करने वाले लोगों के परिजन को मिलेगी अनुग्रह राशि, केंद्र सरकार ने की घोषणा

पुलिस के अनुसार, शुक्रवार देर रात को फ्लैट के अंदर हाथापाई होने की सूचना मिली थी. फ्लैट पर पुलिस के पहुंचने के बाद उन्हें दरवाजा अंदर से बंद मिला. हालांकि जब पुलिसकर्मी अंदर दाखिल हुए तो उन्होंने शवों को लटकता पाया. Also Read - बड़ा दावा- सुसाइड नोट में नरेंद्र गिरि की लिखावट नहीं, महामंडलेश्वर का हत्या की ओर इशारा

पुलिस को संदेह है कि यह आत्महत्या का मामला है. आगे की जांच जारी है. शवों को पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया गया है. फिलहाल इस मामले में कोई भी कुछ कहने की स्थिति नहीं है. घटना से सनसनी फैली हुई है.

सुरक्षाबलों को बड़ी सफलता: मुठभेड़ में मार गिराया जैश कमांडर मुन्ना लाहौरी, पाकिस्तान का रहने वाला था