नई दिल्ली: राजनीतिक पार्टियों ने 2019 के लोकसभा चुनाव की तैयारियां तेज कर दी हैं. वोटरों को लुभाने के लिए कई तरह के हथकंडे अपनाए जा रहे हैं. इंडिया टुडे की खबर के मुताबिक आंध्रप्रदेश में तेलगु देशम पार्टी की सरकार ने राज्य में स्मार्टफोन बांटने के अलावा बेरोजगार ब्राह्मण युवाओं को स्विफ्ट डिजायर कार देने का फैसला किया है. मुख्यमंत्री एन चंद्रबाबू नायडू आज राज्य की राजधानी अमरावती में 30 बेरोजगार ब्राह्मण युवाओं को स्विफ्ट डिजायर कार देंगे. स्वरोजगार प्रोग्राम के तहत ये कारें दी जा रही हैं. हाल की में मुख्यमंत्री नायडू ने कहा था कि राज्य में लोगों की जिंदगी को सरल बनाने के लिए एक करोड़ 40 लाख स्मार्टफोन की जरूरत है.

ब्राह्मण वेलफेयर कोर्पोरेशन सब्सिडी के रूप में अधिकतम 2 लाख रुपये देगा वहीं लाभार्थी को कार की लागत का 10 प्रतिशत अपनी ओर से देना होगा. बाकि राशि आंध्र प्रदेश ब्राह्मण कोर्पोरेटिव क्रेडिट सोसाइटी द्वारा मासिक किस्तों में कर्ज के रूप में दिया जाएगा. पहले चरण में निगम ने 50 कारों को मंजूरी दी है. कोर्पोरेशन के चेयरनमैन वेमुरी आनंद सुर्या ने बताया कि ब्राह्मण कोर्पोरेशन की ओर से अबतक 1.5 लाख युवाओं को लाभ पहुंचा है.

बता दें कि सत्तारूढ़ तेदेपा ने 2018 में भाजपा से नाता तोड़ लिया था और कांग्रेस से नजदीकी बढ़ाते हुए तेलंगाना में एकसाथ चुनाव लड़ा था. 36 साल पुरानी तेदेपा के इतिहास में नया अध्याय जोड़ते हुए तेदेपा प्रमुख और मुख्यमंत्री एन चंद्रबाबू नायडू ने कांग्रेस के लिए अपनी नाराजगी खत्म कर दी थी और 2019 के लोकसभा चुनाव में भाजपा को सत्ता से बेदखल करने के लिए कमर कस ली. आंध्र प्रदेश को विशेष राज्य दर्जा देने की मांग कर रही तेदेपा ने मार्च 2018 में भाजपा की अगुवाई वाले गठबंधन राजग से खुद को अलग कर लिया था.