दिल्ली विधानसभा के विशेष सत्र के दूसरे दिन शुक्रवार को जोरदार हंगामा हुआ है। आज बीजेपी विधायक विजेंदर गुप्ता अपनी बात कहने के लिए टेबल पर चढ़ गए और जमकर हंगामा किया। वहीं गुप्ता की इस हरकत पर डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया ठहाके लगाने लगे। गौरतलब हो की इस मामले को लेकर बीजेपी ने केजरीवाल सरकार से शीला दीक्षित सरकार के जमाने में हुए टैंकर घोटाले की फैक्ट फाइंडिंग रिपोर्ट मांगी थी। Also Read - मध्य प्रदेश उपचुनाव: कमल नाथ का शिवराज पर तंज- अपने क्षेत्र का विकास न कर पाने वाला प्रदेश की तस्वीर क्या बदलेगा, मेरे क्षेत्र को देखो

Also Read - बिहार में चुनाव प्रचार रथ निकालेगी भाजपा, कहा- आरजेडी का जंगलराज याद दिलाएंगे

वही इस मामले में दिल्ली के सीएम मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने उलटा मोदी सरकार पर हमला करते हुए कहा कि मोदी सरकार का इतिहास है कि वह संविधान में विश्वास नहीं करते जिस भ्रष्टाचार की यह बात कर रहे है। सीएम केजरीवाल ने कहा कि अगर एंटी करप्शन ब्रांच 1 महीने के लिए हमें मिल जाए तो विजेंद्र गुप्ता की पत्नी को 1 महीने में जेल भेज दूंगा। केजरीवाल ने कहा एसीबी में मोदी जी ने अपनी पैरामिलिटरी फोर्स भेज कर उसके ऊपर कब्जा कर लिया है। यह भी पढ़ें: दिल्ली के सीएम ने पीएम मोदी का मांगा इस्तीफा और कहा शर्म आनी चाहिए Also Read - प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में भारत की सेना का पाकिस्तान में खौफ: भाजपा

सीएम अरविंद केजरीवाल ने कहा कि बीजेपी-कांग्रेस में पति-पत्नी का रिश्ता है वहीं विजेन्दर गुप्ता का कहना है कि 400 करोड़ के पानी के इस घोटाले की फैक्ट फाइन्डिंग रिपोर्ट खुद उनके मंत्री ने भेजी है जिसे ये लोग दबाकर बैठे हैं। वहीं विजेंदर गुप्ता ने टेबल पर चढ़ने पर अपनी सफाई देते हुए कहा कि मेरा माइक बंद कर दिया गया था। सिर्फ सीएम का माइक चल रहा था और 67 लोग चिल्ला रहे थे जब मुझे लगा मेरी आवाज नही सुनी जा रही है तब मुझे इसलिये मुझे टेबल पर चढ़ने की जरूरत महसूस हुई।