नई दिल्ली: दिल्ली में कोरोना वायरस संक्रमण के मामले बढ़ने के बीच कोविड-19 मरीजों के संक्रमण मुक्त होने की दर पिछले 10 दिनों में क्रमिक रूप से कम हुई है. आधिकारिक आंकड़ों के मुताबिक चार जून को यह घट कर 39.58 प्रतिशत हो गई. पिछले दो हफ्तों में यह पहला मौका है, जब कोविड-19 मरीजों के संक्रमण मुक्त होने की दर 40 प्रतिशत से नीचे आ गई है. Also Read - राहत: दिल्ली में कोरोना की स्थिति में सुधार हुआ, मरीजों के ठीक होने की दर 76 प्रतिशत पहुंची

एक जून को छोड़ कर, जब 990 नये मामले सामने आये थे, दिल्ली में 28 मई से चार जून तक प्रतिदिन 1,000 से अधिक मामले सामने आये. यह आंकड़ा तीन जून को 1,513 रहा था, जो सर्वाधिक है. अधिकारियों ने बताया कि दिल्ली में बृहस्पतिवार को 1,359 नये मामले सामने आये. इसके साथ ही देश की राजधानी में कोविड-19 के मामले बढ़ कर 25,000 के आंकड़े को पार गये. वहीं, इस महमारी से मरने वाले लोगों की संख्या बढ़ कर 650 पहुंच गई है. Also Read - Operation Samudra Setu: भारतीय नौसेना ने पूरा किया 'ऑपरेशन समुद्र सेतु', 3 देशों से 4000 भारतीयों की हुई वापसी

दिल्ली के स्वास्थ्य विभाग ने एक दिन पहले अपनी बुलेटिन में कहा कि लगभग 9,898 मरीज संक्रमण मुक्त हुए हैं, अस्पतालों से छुट्टी दी गई है या प्रवास कर चुके हैं, जबकि 14,456 मरीज इलाजरत हैं. इससे चार जून को संक्रमण मुक्त होने की दर 39.58 प्रतिशत होने का पता चलता है. Also Read - विदेश सचिव हर्षवर्धन श्रृंगला ने की अमेरिकी उप विदेशमंत्री से बात, हिंद-प्रशांत, कोविड-19 से निपटने को लेकर हुई चर्चा

दिल्ली स्वास्थ्य विभाग द्वारा अपने बुलेटिन में साझा किये गये आंकड़ों के मुताबिक इससे पहले यह दर 25 मई को 48.18 प्रतिशत से लेकर तीन जून को 40.35 प्रतशित के बीच रही. हालांकि, 20 मई (46.82 प्रतशित) से लेकर 25 मई (48.18 प्रतिशत) तक संक्रमण मुक्त होने की दर क्रमिक रूप से बढ़ी थी.

इसके बाद, 26 मई को इस दर में मामूली कमी आई और यह 48.07 रही थी. 26 मई की बुलेटिन में कहा गया है कि 6,954 मरीज संक्रमण मुक्त हुए, जबकि उस दिन तक मृतक संख्या 288 थी. बुलेटिन के मुताबिक तीन जून को कुल 44 मौतें दर्ज की गई, जो तीन मई से तीन जून के बीच हुई थी. इमसें कहा गया है कि दो जून को 17 लोगों की मौत हुई और उस दिन करीब 1300 नये मामले सामने आये. 28 मई से 31 मई तक प्रतिदिन सामने आये नये मामले क्रमश: 1024,1106,1163 और 1295 थे.

(इनपुट भाषा)