नई दिल्ली: पाकिस्तान ने रविवार को जम्मू एवं कश्मीर में नियंत्रण रेखा (एलओसी) पर संघर्ष विराम का उल्लंघन कर गोलीबारी शुरू कर दी, जिसमें दो जवान शहीद हो गए और एक नागरिक की मौत हो गई. रक्षा विभाग के सूत्रों ने यह जानकारी देते हुए बताया कि भारत ने भी जवाबी कार्रवाई की है. यह घटना यहां लद्दाख में सामरिक रूप से महत्वपूर्ण एक पुल का उद्घाटन करने के लिए रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह और थल सेना अध्यक्ष बिपिन रावत के सोमवार को होने वाले दौरे से एक दिन पहले हुई है.

करतारपुर गलियारे के उद्घाटन समारोह में मनमोहन सिंह होंगे शामिल होंगे: शाह महमूद कुरैशी

सूत्रों के अनुसार, पाकिस्तान ने रिहायशी इलाकों में गोलीबारी की, जिसमें एक नागरिक की मौत हो गई. इसके अलावा तंगधार सेक्टर में तीन अन्य लोग भी घायल हो गए हैं. सेना ने एक बयान में कहा कि पाकिस्तान ने तंगधार सेक्टर में संघर्ष विराम का उल्लंघन किया. भारतीय सैनिकों ने प्रभावी तरीके से जवाबी कार्रवाई की और पाकिस्तान में जानमाल का भारी नुकसान हुआ है. भारत की तरफ से जवाबी गोलीबारी जारी है. सैन्य अधिकारियों ने कहा कि उस तरफ हुए नुकसान का सही आंकलन किया जा रहा है.

दिल्ली में दिल दहलाने वाली वारदात, शिक्षक ने मां को उतारा मौत के घाट, किया सुसाइड

राजनाथ सिंह और जनरल रावत लेह में दरबुक को चीन सीमा से लगी वास्तविक नियंत्रण रेखा (एलएसी) के पास दौलत बेग ओल्डी से जोड़ने वाली नवनिर्मित सड़क पर बने सामरिक रूप से महत्वपूर्ण पुल का उद्घाटन करने सोमवार को पूर्वोत्तर लद्दाख का दौरा करने वाले हैं. पुल का नाम भारतीय सेना के प्रतिष्ठित सैनिक कर्नल शेवांग रिनशेन के नाम पर रखा गया है. कर्नल लद्दाख के रहने वाले थे.