नई दिल्ली: अगस्ता वेस्टलैंड सौदे के कथित बिचौलिए क्रिश्चियन मिशेल के प्रत्यर्पण के बाद भाजपा के हमले पर पलटवार करते हुए कांग्रेस ने बृहस्पतिवार को कहा कि इस मामले में कांग्रेस पर सवाल उठाना ‘चोर की दाढ़ी में तिनके’ की तरह है क्योंकि अगस्ता के साथ नरेंद्र मोदी सरकार की ‘सांठगांठ’ है जिसकी जांच किए जाने की जरूरत है.

एमपी में बनने जा रही कांग्रेस की सरकार, 13 दिसंबर को तय हो जाएगा सीएम: कमलनाथ

जेटली ने यूनियन कार्बाइड की वकालत क्यों की ?
पार्टी ने युवा कांग्रेस से जुड़े रहे एल्जो जोसेफ के मिशेल का वकील होने को लेकर भाजपा के हमले पर कहा कि अगर वकालत को आधार बनाया जाए तो फिर पहले भाजपा को जवाब देना चाहिए कि अरूण जेटली ने भोपाल गैस त्रासदी की आरोपी कंपनी यूनियन कार्बाइड की बतौर वकील पैरवी क्यों की और उनके परिवार ने भगोड़े कारोबारी नीरव मोदी को विधि सेवाएं मुहैया क्यों कराईं? गौरतलब है कि नीरव मोदी मामले में एक बार पहले भी कांग्रेस की तरफ से यह आरोप लगाए जाने पर जेटली ने इसे खारिज किया था.

भाजपा सांसद के इस्तीफे पर बोली कांग्रेस, ‘डूबते जहाज’ से छलांग लगाना ही समझदारी

कांग्रेस प्रवक्ता जयवीर शेरगिल ने संवादाताओं से कहा, ‘‘पांच राज्यों के विधानसभा चुनावों के नतीजों सामने आने से पहले ही भाजपा ने समर्पण कर दिया है. उसकी झूठ-मूठ और सूट-बूट की सरकार से जनता रूठ चुकी है. 11 दिसंबर को कमल मुरझाने वाला है, इसलिए भाजपा बेकार के संवाददाता सम्मेलन कर रही है.’’ उन्होंने आरोप लगाया, ‘‘अगस्ता वेस्टलैंड मामले में भाजपा की ओर से कांग्रेस पर सवाल उठाना चोर की दाढ़ी में तिनका है. कांग्रेस की सरकार ने तो अगस्ता और उसकी मातृ कंपनी फिनमेकानिका के खिलाफ कार्रवाई की. लेकिन भाजपा की सरकार ने इस कंपनी को फायदा पहुंचाने का काम किया. नरेंद्र मोदी सरकार और अगस्ता के बीच की सांठगांठ की जांच होनी चाहिए.’’

2019 के लोकसभा चुनाव में बीजेपी के टिकट पर चुनाव लड़ेंगी माधुरी दीक्षित

बहुत हैं सवाल, जवाब चाहिए
कांग्रेस प्रवक्ता ने कहा ‘युवा कांग्रेस के सदस्य रहे वकील जोसेफ को आधार बनाकर भाजपा कांग्रेस पर आरोप लगा रही है. इस मापदंड पर पहले भाजपा को जवाब देना चाहिए कि जेटली जी का परिवार नीरव मोदी के मामले में वकील क्यों बना था? जेटली जी ने भोपाल गैस त्रासदी की आरोपी कंपनी की बतौर वकील पैरवी क्यों थी?’ उन्होंने सवाल किया, ‘भाजपा को इसका भी जवाब देना चाहिए कि वसुंधरा राजे ने विदेश में ललित मोदी की मदद के लिए हलफनामा क्यों दिया था? रविशंकर प्रसाद सहारा के वकील क्यों बने थे?’ कांग्रेस नेता ने कहा, ‘भाजपा की सरकार जब अगस्ता मामले में कांग्रेस के नेताओं के खिलाफ कुछ पाने में विफल रही तो एक वकील का नाम लेकर मनगढंत कहानियां बना रही है.’ गौरतलब है कि मिशेल के प्रत्यर्पण के मामले को लेकर कांग्रेस पर निशाना साधते हुए भाजपा ने बृहस्पतिवार को आरोप लगाया था कि मिशेल के प्रत्यर्पण के बाद उद्विग्न कांग्रेस उसे बचाव में लगी हुई है. भाजपा प्रवक्ता संबित पात्रा ने संवाददाताओं से कहा, ‘‘ मिशेल के आने से एक परिवार की नींद उड़ गई है. कांग्रेस का असली चेहरा सबके सामने आ गया है. (इनपुट भाषा)

चुनाव की विस्तृत खबरों के लिए पढ़ें