नई दिल्ली: आयकर विभाग ने कथित कर चोरी से जुड़े एक मामले में बुधवार की सुबह दिल्ली सरकार के परिवहन मंत्री कैलाश गहलोत से जुड़े विभिन्न परिसरों पर छापे मारे. अधिकारियों ने बताया कि राष्ट्रीय राजधानी और गुड़गांव में स्थित कम से कम 16 परिसरों पर करीब 60 आयकर अधिकारियों और पुलिस अधिकारियों की टीम छापेमारी की कार्रवाई कर रही है.Also Read - Income Tax Rebate: किराए के घर में रहने पर मिलती है इनकम टैक्स छूट, यहां चेक करें डिटेल्स

Also Read - Maharashtra: बिना पैनकार्ड को-ऑपरेटिव बैंक में 1200 अकाउंट खोले, 700 खातों में 7 दिन में 34 करोड़ जमा हुए

video: अमेरिका में प्रचंड हुआ Hurricane माइकल, लोगों से तुरंत सुरक्षित ठिकानों पर जाने की अपील Also Read - सूखे मेवे के कारोबारियों पर IT की छापेमारी, 200 करोड़ रुपये की काली कमाई का पता चला

ताबड़-तोड़ छापेमारी

रेड डालने वाले दल वसंत कुंज और डिफेंस कॉलोनी जैसे इलाकों में स्थित परिसरों में कार्रवाई कर रहे हैं. इनके अलावा पश्चिम विहार, नजफगढ़, लक्ष्मी नगर तथा गुड़गांव के पालम विहार इलाकों में भी दफ्तरों और आवासों पर छापेमारी की जा रही है. यह कार्रवाई ब्रिस्क इंफ्रास्ट्रक्चर ऐंड डेवलपर्स प्रा.लि. और कॉर्पोरेट इंटरनेशनल फाइनेंशियल सर्विसेस नाम की दो फर्मों के खिलाफ कर चोरी मामले की जांच के सिलसिले में की जा रही है. इन फर्मों के मालिक गहलोत के परिजन हैं, वे ही इनका संचालन भी करते है.

भिलाई इस्पात संयंत्र हादसा: इलाज के दौरान दो घायलों की मौत, 11 हुई मृतकों की संख्या

अधिकारियों ने बताया कि कई लेनदेन के चलते और लाभ को कथित तौर पर कम करके बताने के कारण विभाग ने दोनों प्रतिष्ठानों के प्रमोटरों के खिलाफ कर चोरी की जांच शुरू की. पहली कंपनी रीयल एस्टेट क्षेत्र की है जबकि दूसरी गैर-बैंकिंग वित्तीय कंपनी (एनबीएफसी) है. नजफगढ़ विधानसभा क्षेत्र से विधायक गहलोत दिल्ली की आम आदमी पार्टी सरकार में परिवहन, कानून और राजस्व मंत्री हैं.(इनपुट भाषा)