जयपुर: राजस्थान सरकार ने सैनिक बल व अर्द्ध सैनिक बलों के शहीद सैनिकों के परिजन और स्थायी युद्ध विकलांग सैनिकों को देय सहायता और सुविधा पैकेज में बढ़ोतरी के आदेश बुधवार रात जारी कर दिए. इसके तहत अब राज्य के शहीद जवानों के आश्रितों को 50 लाख रुपए तक और स्थायी युद्ध विकलांग सैनिकों को 30 लाख रुपए तक नकद सहायता राशि मिल सकेगी. मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में हुए आतंकी हमले के बाद इस संबंध में घोषणा की थी.

संशोधित पैकेज के अनुसार अब शहीद का परिवार कुल 50 लाख रुपए नकद या 25 लाख रुपए नकद के साथ इंदिरा गांधी नहर परियोजना क्षेत्र फेज – द्वितीय में 25 बीघा भूमि अथवा 25 लाख रुपए नकद के साथ राजस्थान आवासन मंडल के एक एमआईजी आवास का विकल्प चुन सकता है.

इसी प्रकार स्थायी युद्ध विकलांग सैनिक 5 लाख रुपए नकद के साथ इंदिरा गांधी नहर परियोजना क्षेत्र फेज – द्वितीय में 25 बीघा भूमि या 30 लाख रुपए नकद में से एक विकल्प चुन सकेंगे. इसके साथ ही पूर्व की भांति स्थाई युद्ध विकलांग सैनिक या उसके आश्रित पुत्र अथवा पुत्री को सरकारी नौकरी दी जाएगी.