Independence Day 15 August 2018: भारत में 72वां स्वतंत्रता दिवस मनाया जा रहा है. सात दशक पहले इसी दिन 15 अगस्त 1947 को भारत को अंग्रेजों से आजादी मिली थी. भारतीय इतिहास का यह सबसे महत्वपूर्ण दिवस है. भारत वास्तव में एक धर्मनिरपेक्ष और विविधता वाला देश है, जिसमें विभिन्न धर्मों, भाषाओं, जाति और पंथ के लोग एक साथ सद्भाव में रहते हैं. हम सब ने स्वतंत्रता सेनानियों की वीर गाथा सुनी है, जिन्होंने देश की आजादी कि लिए अपनी कुर्बानी दे दी.

लेकिन हम स्वतंत्रता दिवस के बारे में कुछ ऐसे तथ्य लेकर आए हैं, जिनके बारे में आप संभवत: नहीं जानते होंगे. जानें कुछ ऐसी ही आश्चर्यजनक और दिलचस्प बातें:

1. ब्रिटिश ईस्ट इंडिया कंपनी वर्ष 1600 में भारत आई. दरअसल, ईस्ट इंडिया कंपनी तब यहां कारोबार करने के लिए आई थी. चाय, कॉटन और सिल्क का कारोबार करते-करते उसने पूरे भारत पर कब्जा कर लिया.

2. ’15 अगस्त’ के दिन को स्वतंत्रता दिवस के रूप में मनाने का फैसला अंतिम वाइसराय और भारत के पहले गवर्नर जनरल लॉर्ड माउंटबेटन ने लिया था. क्योंकि साल 1945 में उसी दिन जापान ने द्वितीय विश्व युद्ध के अंत में सहयोगी बलों के सामने आत्मसमर्पण कर दिया था.

3. 15 अगस्त के दिन सिर्फ भारत में ही नहीं, बल्कि दुनिया के अन्य 5 देशों में भी स्वतंत्रता दिवस के रूप में मनाया जाता है. इसमें बहरीन, उत्तरी कोरिया, दक्षिण कोरिया, लिकटेंस्टीन और कांगो गणराज्य में भी 15 अगस्त को स्वतंत्रता दिवस के रूप में मनाया जाता है.

Independence Day Special: कोई नहीं जानता देश के बंटवारे और भारत की आजादी के दस्तावेज पर किसने किए दस्तखत

4. देश को स्वतंत्रता मिलने के बाद महात्मा गांधी ने इंडियन नेशनल कांग्रेस को खत्म करने की योजना बनाई थी. अपनी मौत से एक दिन पहले महात्मा गांधी ने एक ड्राफ्ट में लिखा था कि INC को जिस मकसद के लिए बनाया गया था, वह हासिल कर लिया गया है. इसलिए अब उसे खत्म कर देना चाहिए.

5. हम सभी जानते हैं कि पंडित जवाहरलाल नेहरू स्वतंत्र भारत के पहले प्रधानमंत्री थे. लेकिन वह जनता की पहली पसंद नहीं थे. दरअसल, सरदार वल्लभभाई पटेल को नेहरू से ज्यादा वोट मिले थे. लेकिन नेहरू की इच्छा को देखते हुए महात्मा गांधी ने वल्लभाई पटेल से अनुरोध किया था कि वह पीछे हट जाएं और इस तरह नेहरू को आजाद देश का पहला प्रधानमंत्री बना दिया गया.

6. प्रथम प्रधानमंत्री नेहरू को दुनियाभर में स्टाइल आइकन के रूप में देखा जाता था. उनका नेहरू जैकेट इतना प्रसिद्ध हुआ कि उन्हें Vogue मैगजीन के कवर पर जगह मिली थी.

Independence Day: संभल कर रहना! मोर्चे पर डट गई है ‘पलटन’, मिलकर कहें सब वंदे मातरम

7. स्वतंत्रता के दौरान भारत के पास कोई राष्ट्रगान नहीं था. रविंद्रनाथ टैगोर ने जन गण मन को साल 1911 में लिखा था और उसे अधिकारिक तौर पर साल 1950 में अपनाया गया.

8. सभी महिलाओं की ओर से स्वतंत्र भारत की संसद का प्रतिनिधित्व हंसा मेहता ने किया था.

9. साल 1947 में भारतीय 1 रुपया = $ 1 (डॉलर) के बराबर था. वर्तमान में 70 रुपये = $ 1 (डॉलर) हो गया है.

10. कानूनी रूप से तिरंगा झंडा सिर्फ खादी के कपड़े में ही बनाया जाना चाहिए. खादी डेवेलपमेंट एंड विलेज इंडस्ट्रीज कमीशन के पास भारत का राष्ट्रीय झंडा बनाने का अधिकार है. यदि कोई दूसरे कपड़े में बना झंडा लहराता है तो उसे कानूनी रूप से तीन साल की सजा हो सकती है और जुर्माना लगाया जा सकता है.

एजुकेशन और करियर की अन्य खबरों को पढ़ने के लिए करियर न्यूज पर क्लिक करें.