देश 72वां स्वतंत्रता दिवस मना रहा है और अपने वीर शहीदों को याद कर रहा है. आज हम जिस आजादी का जश्न मना रहे हैं उसके लिए देश के कई क्रांतिकारी शहीद हुए हैं. उस समय तो देश के क्रांतिकारियों ने अपने अदम्य साहस का परिचय देते हुए देश को आजाद करा दिया लेकिन आज हमारे देश की सेनाएं हमारी सरहदों की रक्षा कर रही हैं. Also Read - Video: रुला देगा सपना चौधरी का ये नया वीडियो, ऐसा अंदाज पहले नहीं देखा होगा

Also Read - Independence Day पर बॉलीवुड ने महिला अपराधों पर जताई चिंता, कमल हासन बोले- आंकड़ों का जश्न न हो

PHOTOS: 112 सालों में वक्‍त के साथ ऐसे बदलता रहा हमारा तिरंगा, पहले दिखता था कुछ ऐसा… Also Read - Independence Day: राज्यपाल ने सेना, सुरक्षाबलों को सराहा, कहा- पाकिस्तान से है बेहतर संबंधों की उम्मीद

भारतीय सेना हो भारतीय नेवी हो भारतीय वायुसेना हो अर्धसैनिक बल हों या पुलिस हो, ये सभी एजेंसियां हमारे देश की रक्षा करने में लगी हुई हैं. इन सभी सेनाओं का एक आदर्श वाक्य होता है जिसे स्वतंत्रता दिवस जैसे अवसर पर हौसला बढ़ाने के लिए बोला जाता है. स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर हम आपको बताते हैं कि इन सेनाओं की क्या है खासियत और क्या होता है इनका आदर्श वाक्य-

Independence Day 2018: ये 10 काम करके इस स्वतंत्रता दिवस को बना सकते हैं यादगार

ग्रेनेडियर्स रेजीमेंट्स: इस रेजिमेंट को सेना में सबसे शक्तिशाली माना जाता है जब दुश्मन इनके सामने हो तो इनका नारा यही होता है “सर्वदा शक्तिशाली” है

महार रेजीमेंट का नारा है: “बोलो भारत माता की जय”

राजपुताना रेजीमेंट: अपनी नाम की तरह इनका काम भी होता ऐसे जवान जो दुश्मन के पैर जमीन पर टिकने नही देतें हैं। दुश्मन को ललकारते हुए इनका नारा होता है, “राजा रामचन्द्र की जय”

डोगरा रेजीमेंट: इस रेजिमेंट का नारा है “ज्वाला माता की जय”

मराठा रेजीमेंट का नारा: मराठा रेजिमेंट जिसने हार मानना सिखा नही, इनका नारा होता है, “हर-हर महादेव” “बोलो छात्रपति शिवजी महाराज की जय”

जाट रेजीमेंट का युद्ध घोष है: जाट रेजिमेंट दुश्मन के घर में घुस कर मारतें हैं इनका नारा भी कुछ ऐसा ही है “बजरंग बली की जय” “जय बलवान जय भगवन”

गोरखा रेजीमेंट: मजबूत और शार्प अपने लक्ष्य को पाना ही इनका सबसे बड़ा उद्देश्य होता है इनका नारा “जय महा काली आयो गुरखाली” और “कायरता से मरना अच्छा”

पंजाब रेजीमेंट: सिखों की यह रेजिमेंट जब भी लगता है यह नार “जो बोले सो निहाल सशरियाकल” दुश्मन भी कांप उठता है।

पैराशूट रेजीमेंट: दुश्मन को पटखनी देना और मार के भगाना इन्हें पसंद है शायद इसी लिए कहतें हैं “सर्वदा शक्तिशाली”

कुमाऊ रेजीमेंट: इस रेजिमेंट का नारा “कलिका माता की जय”

मद्रास रेजीमेंट का नारा है: वीरता और साहस का परिचय दे चूका कई यह रेजिमेंट इनका नारा है “वीर मद्रासी आदि कोल्लू आदि कोल्लू “