Independence Day 2020: कश्मीर में तैनात सीआरपीएफ के अधिकारी नरेश कुमार को शुक्रवार को फिर से वीरता पदक से सम्मानित किया गया. पिछले चार साल में कुमार को यह सातवां पदक मिला है. श्रीनगर हवाई अड्डे के पास 2017 में सुरक्षा बलों के शिविर पर हमला करने वाले तीन आतंकवादियों को मार गिराने वाली टुकड़ी का नेतृत्व करने के लिए कुमार को यह सातवां पदक मिला है. Also Read - कश्मीर: नदियों में बंकर बना रहे आतंकी, सेना से बचने को अपना रहे ऐसे-ऐसे तरीके

केन्द्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) में 2013 में शामिल हुए 35 वर्षीय असिस्टेंट कमांडेंट कुमार को स्वतंत्रता दिवस की पूर्व संध्या पर ‘‘पुलिस वीरता पदक से सम्मानित किया गया.’’ फिलहाल दिल्ली में तैनात कुमार ने कहा, ‘‘इस पदक को पाने की खबर से बहुत उत्साहित हूं. मैं अपने देश की सेवा करते रहना चाहता हूं, इसलिए तो मैंने वर्दी पहनी है.’’ Also Read - पाकिस्‍तान ने जम्मू-कश्मीर में ड्रोन से गिराए हथियार, लश्‍कर के तीन आतंकी गिरफ्तार

देश के सबसे बड़े अर्धसैनिक बल सीआरपीएफ में 3.25 लाख से ज्यादा कर्मी हैं. जम्मू-कश्मीर पुलिस (81) के बाद इस बार सीआरपीएफ को सबसे ज्यादा 55 वीरता पदक मिले हैं. अर्धसैनिकों बलों में सबसे ज्यादा वीरता पदक सीआरपीएफ के हिस्से में ही आए हैं. पंजाब में होशियारपुर के रहने वाले कुमार को पहला वीरता पदक 2017 में मिला था. वह हाल तक कश्मीर घाटी में त्वरित कार्रवाई टीम (क्यूएटी) के प्रमुख थे. Also Read - केरल, पश्चिम बंगाल से अरेस्‍ट अलकायदा आतंकियों का ये था प्‍लान, पाक हैंडलर से मिल रहे थे आदेश

उन्होंने कहा, ‘‘अकादमी से पास होने के साथ ही मैं कश्मीर चला गया था. मैं वापस तैनाती पर कश्मीर जाना चाहता हूं.’’ सीआरपीएफ के अनुसार, कुमार युद्ध के मैदान में बेहद तेज और अदम्य साहस वाले अधिकारी हैं. कुमार ने पंजाब विश्वविद्यालय से बी.टेक किया है और उनकी पत्नी शीतल रावत उनकी बैचमेट और सीआरपीएफ में असिस्टेंट कमांडेंट हैं.

सीआरपीएफ की क्यूएटी राज्य पुलिस और सेना के साथ मिलकर चलाए जाने वाले लगभग सभी आतंकवाद विरोधी अभियानों का हिस्सा होती है. सीआरपीएफ के प्रवक्ता ने बताया, ‘‘इसी साल क्यूएटी को 15 से ज्यादा वीरता पदक मिले हैं.’’ घाटी में कुमार की जगह लेने वाले वर्तमान क्यूएटी कमांडर एसी एल. आई.सिंह और उनके सहकर्मी कांस्टेबल देवसंत कुमार को क्रमश: उनका तीसरा और दूसरा वीरता पदक मिला है.

केन्द्रीय गृह मंत्रालय द्वारा शुक्रवार को जारी सूची के अनुसार, सीआरपीएफ के पूर्व महानिरीक्षक (कश्मीर) रविदीप सिंह शाही को भी पुलिस वीरता पदक दिया गया है. प्रवक्ता ने बताया कि सीआरपीएफ को अभी तक मिले 55 वीरता पदकों में से 41 जम्मू-कश्मीर में हुए अभियानों के लिए जबकि 14 छत्तीसगढ़ में माओवादियों के खिलाफ अभियान के लिए मिला है.

(इनपुट भाषा)