श्रीनगर: जम्मू कश्मीर के राज्यपाल एनएन वोहरा ने आज सुरक्षाबलों की प्रशंसा करते हुए कहा कि उन्होंने पाकिस्तान द्वारा छेड़ी गई छद्म लड़ाई को सफलतापूर्वक नाकाम कर दिया है. उन्होंने उम्मीद जताई कि पाकिस्तान का नया नेतृत्व द्विपक्षीय संबंधों में सुधार लाने में मदद करेगा. उन्होंने कहा कि मुझे बड़ी आशा है कि इस्लामाबाद का नया नेतृत्व जम्मू कश्मीर में अपना आतंकवादी एजेंडा जारी रखने की व्यर्थता समझेगा और स्वीकार करेगा कि दोनों देशों के बीच की शांति फलप्रद संबंधों की स्थापना, व्यापार में वृद्धि, समृद्धि में योगदान करेगी.

Independence Day पर पीएम नरेंद्र मोदी ने देश को दी खुशखबरी, पढ़िए भाषण की 10 बड़ी बातें

यहां शेर-ए-कश्मीर स्टेडियम में स्वतंत्रता दिवस समारोह को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि पाकिस्तान ने पिछले साल बड़ी संख्या में प्रशिक्षित आतंकवादियों को भारत में भेजने की कोशिश की, लेकिन हमारी सेना, पुलिसबल के जवानों ने प्रभावी अभियान चलाकर उनका सफाया कर दिया. यह शायद पिछले कुछ साल में मारे गये आतंकवादियों की सबसे बड़ी संख्या है.

जो समाज सतर्क नहीं रहेगा, सवाल नहीं पूछेगा, वह अपनी स्वतंत्रता खो देता है: अखिलेश यादव

उन्होंने कहा कि इस साल जून तक पाकिस्तान द्वारा बार बार संघर्ष विराम उल्लंघन किया गया और नियंत्रण रेखा के समीप रहने वालों को बड़ा नुकसान पहुंचा. उन्होंने कहा कि मैं इस मौके का उपयोग निर्भीक अधिकारियों और जवानों को सलाम करने तथा पुलिस, केंद्रीय सशस्त्र पुलिस बलों और सेना के बहादुर शहीदों को श्रद्धांजलि देने के लिए लिए करना चाहता हूं जिन्होंने हमारे देश की अखंडता अक्षुण्ण रखने के लिए सर्वोच्च बलिदान किया.