नई दिल्ली: भारत ने अमेरिकी हमले में ईरान के वरिष्ठ कमांडर के मारे जाने पर आधिकारिक बयान जारी करते हुए कहा है कि मौजूदा तनाव में वृद्धि ने विश्व को चौकन्ना किया है. विदेश मंत्रालय ने अपने बयान में कहा कि अभी सबपसे महत्वपूर्ण यह है कि स्थिति और अधिक न बिगड़े. भारतीय विदेश मंत्रालय ने ईरानी जनरल के मारे जाने पर आगे कहा कि भारत के लिए क्षेत्र में शांति, स्थिरता और सुरक्षा अत्यंत महत्वपूर्ण है. Also Read - Corona Spike in India: COVID19 ने अब तक के सारे रिकॉर्ड तोड़े, 3,32,730 नए केस आए, 24 घंटे में 2263 मौतें

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के आदेश पर किए गए बगदाद अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे के पास हमले में ईरान के इस्लामिक रिवोल्यूशनरी गार्ड कॉर्प्स (आईआरजीसी) के विशिष्ट कुद्स फोर्स के प्रमुख जनरल कासिम सुलेमानी की हुई मौत पर भारत ने संयम बर्तने का आह्वान करते हुए शुक्रवार को कहा कि यह महत्वपूर्ण है कि स्थिति आगे न बढ़े. Also Read - Realme 8 5G Price in India: मात्र 14,999 रुपये में मिल रहा है ये 5जी स्मार्टफोन, जानिए क्या हैं इसकी धमाकेदार फीचर्स

विदेश मंत्रालय ने एक बयान में कहा, “हमनी इस पर नजर है कि एक वरिष्ठ ईरानी नेता को अमेरिका द्वारा मार दिया गया है. तनाव में वृद्धि ने दुनिया को चौंकन्ना किया है. इस क्षेत्र में शांति, स्थिरता और सुरक्षा भारत के लिए अत्यंत महत्वपूर्ण है.” उन्होंने कहा, “यह महत्वपूर्ण है कि स्थिति आगे न बढ़े है. भारत ने लगातार संयम बर्तने की वकालत की है और ऐसा करना जारी रखेगा है.” Also Read - भारत में गैर-मुनाफे वाली कीमत पर Corona Vaccine देने को तैयार Pfizer, मिल सकता है सस्ता टीका

बता दें कि ईरान के इस्लामिक रिवोल्यूशनरी गार्ड कॉर्प्स (आईआरजीसी) के विशिष्ट कुद्स फोर्स के प्रमुख जनरल कासिम सुलेमानी की हुई मौत से भड़के ईरान के सर्वोच्च नेता अयातुल्ला सैय्यद अली खामेनी ने बदला लेने का संकल्प लिया है. आईआरजीसी ने कहा कि हशद शाबी या इराकी पॉपुलर मोबिलाइजेशन फोर्सेज (पीएमएफ) के डिप्टी कमांडर अबू महदी अल-मुहांदिस भी सुलेमानी के साथ गुरुवार रात अमेरिकी हमले में मारे गए थे. बगदाद इंटरनेशनल एयरपोर्ट रोड पर उनके वाहन को निशाना बनाया गया.