राष्ट्र आज 71वां सेना दिवस (Army Day) मना रहा है. आज भारतीय सेना के उन जबांजों को याद किया जाता है जो देश की रक्षा के लिए अपने प्राणों की कुर्बानी देने से नहीं हिचकिचाते. इस मौके पर हर साल परेड का आयोजन होता है. अब से थोड़ी देर बाद यानी 10:15 बजे दिल्ली के करियप्पा परेड ग्राउंड में परेड का आयोजन होगा. सेना प्रमुख जनरल बिपिन रावत परेड की सलामी लेंगे. वे इस मौके पर जवानों को वीरता और अन्य पुरस्कार भी देंगे. Also Read - pakistan foreign minister k m asif threatens india of nuclear attack | पाक ने दी परमाणु हमले की धमकी, कहा- किसी तरह का दुस्साहस ना करे भारत

सेना दिवस का आयोजन हर साल 15 जनवरी को होता है. इसी दिन जनवरी 1949 में लेफ्टिनेंट जनरल केएम करियप्पा ने भारतीय सेना की कमान अपने हाथों में ले थी. करियप्पा से पहले भारतीय सेना के प्रमुख अंग्रेज अधिकारी होते थे. तत्कालीन सेना प्रमुख जनरल सर फ्रांसिस बुचर (Sir Francis Butcher) ने जनरल करियप्पा को कमान सौंपी थी. इस तरफ जनरल करियप्पा भारतीय सेना के पहले भारतीय कमांडर इन चीफ थे. जनरल करियप्पा उन दो सैन्य अधिकारियों में शामिल हैं जिन्हें फाइव स्टार रैंक के साथ फील्ड मार्शल की उपाधि दी गई है. Also Read - China condemns army chief Bipin Rawat statement, top things to know | सेना प्रमुख के बयान से चीन हैरान, बोला- भारत सरकार से विपरीत है जनरल रावत की राय

सेना दिवस के मौके पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सशस्त्र सेनाओं को बधाई दी है. उन्होंने ट्वीट कर लिखा है कि इस मौके पर जवानों, पूर्व सैनिकों और उनके परिजनों को बहुत-बहुत शुभकामनाएं. Also Read - Army Chief Bipin Rawat expressed the possibility of such incidents like Dokmal, the situation is worrisome! | सेना प्रमुख बिपिन रावत ने डोकलाम जैसी घटनाएं बढ़ने की संभावना जताई, स्थिति चिंताजनक!

सेना प्रमुख जनरल बिपिन रावत ने भी सेना के सभी अधिकारियों और उनके परिजनों को आर्मी डे की शुभकामनाएं दी हैं.

महिला ऑफिसर लेफ्टिनेंट भावना कुस्तुरी के नेतृत्व में परेड

लेफ्टिनेंट भावना कुस्तुरी.

गौरतलब है कि इस साल के परेड का नेतृत्व एक महिला ऑफिसर लेफ्टिनेंट भावना कुस्तुरी करने जा रही हैं. वह पहली महिला अफसर हैं जो परेड में सेना की एक टुकड़ी का नेतृत्व करेंगी. यह मार्च महिलाओं की उस टुकड़ी से अलग है जिसका नेतृत्व कैप्टन दिव्या अजिथ ने साल 2015 में गणतंत्र दिवस के मौके पर किया था. बता दें कि 71वें आर्मी डे परेड के दिन लेफ्टिनेंट भावना कस्तुरी इंडियन आर्मी सर्विस कॉर्प्स (ASC) टुकड़ी का नेतृत्व करेंगी, जिसमें 144 पुरुष जवान शामिल होंगे.

सेना द्वारा मिले इस अवसर की की प्रशंसा करते हुए उन्होंने कहा, यह एक प्रकार से स्वीकार्यता को दर्शाता है, परिवर्तन दिखाता है और पूरे संस्थान का एक अलग उद्धव दर्शाता है. इसके साथ ही यह महिला अधिकारियों की स्वीकार्यता को दर्शाता है. बता दें कि ASC सेना के लॉजिस्टिक सपोर्ट सिस्टम को हैंडल करता है. यह 23 साल के बाद परेड का हिस्सा बनने जा रहा है.

लेफ्टिनेंट कस्तूरी के अलावा एक अन्य अफसर कैप्टन शिखा सुरभी एक आर्मी डेयरडेविल्स मोटरसाइकिल डिस्प्ले टीम का नेतृत्व करेंगी. यह भी किसी महिला अफसर के लिए पहला मौका है. इस टीम में 33 पुरुष रहेंगे, जो कि 9 बाइक पर पिरामिड का निर्माण करेंगे. कैप्टन शिखा बाइक चलाते हुए मेहमानों को सैल्यूट करती भी दिखेंगी. हालांकि, पूरी डेयरदेविल्स की टुकड़ी को मेजर मनप्रीत सिंह लीड करेंगे.