नई दिल्ली: केंद्रीय मंत्री जितेंद्र सिंह ने रविवार को कहा कि भारत के पूर्वोत्तर क्षेत्र से बांग्लादेश को जोड़ने वाली रेलवे लाइन का काम वर्ष 2021 के अंत तक पूरा हो जाएगा. सिंह ने कहा कि जब त्रिपुरा में अगरतला और बांग्लादेश में अखौरा के बीच रेलवे लाइन का निर्माण पूरा हो जाएगा तो 2022 में पूर्वोत्तर से बांग्लादेश तक पहली ट्रेन चलाने का मार्ग प्रशस्त होगा. Also Read - Bangladesh: रोहिंग्या शिविर के पास बाजार में लगी आग, तीन लोगों की मौत

पूर्वोत्तर में कुछ आगामी परियोजनाओं के बारे में जानकारी देते हुए पूर्वोत्तर क्षेत्र के विकास के लिए केंद्रीय मंत्री सिंह ने कहा कि भारतीय हिस्से में 5.46 किमी रेलवे लाइन बिछाने का खर्च उनका मंत्रालय वहन करेगा जबकि बांग्लादेश में 10.6 किमी रेलवे लाइन बिछाने का खर्च विदेश मंत्रालय वहन करेगा. Also Read - प्रधानमंत्री मोदी ने शेख हसीना को दिए कई 'उपहार', भारत-बांग्लादेश ने पांच सहमति-पत्र पर किए हस्ताक्षर

यह रेललाइन हिस्सा गंगासागर (बांग्लादेश) से निश्चिंतपुर (भारत) और निश्चिंतपुर से अगरतला रेलवे स्टेशन को जोड़ेगी. Also Read - ममता बनर्जी का पीएम मोदी पर हमला, 'यहां चुनाव चल रहे हैं और वे बांग्लादेश जाकर बंगाल पर लेक्चर देते हैं, रद्द हो पीएम का वीजा

(इनपुट भाषा)