India china Border Fight Live Update: बीते दिनों पूर्वी लद्दाख में एलएसी पर भारत और चीन की सेना के बीच हुई झड़प के बाद से दोनों देशों के बीच स्थिति तनावपूर्ण बनी हुई है. इस झड़प में भारत के 20 जवान शहीद हो गए थे. इस बीच चीन की तैयारी को देखकर ऐसा लगता है कि वह एलएसी पर किसी बड़े टकराव की योजना बना रहा है. उसने एलएसी पर 20 हजार से अधिक सैनिक तैनात किए हैं.Also Read - पैंगोंग झील से सेनाओं के हटने के बाद कल नए सिरे से वार्ता करेंगे भारत व चीन के सैन्य कमांडर

इतना ही नहीं उसने एलएसी से करीब 1000 किमी दूर शिनजियांग (Xinjiang) प्रांत में 10 से 12 हजार सैनिकों अलर्ट मोड में रखा है. ये सैनिक अत्याधुनिक हथियारों से लैस हैं और अधिकतम 48 घंटे के भीतर एलएसी पर पहुंच सकते हैं. इनके पास परिवहन के तीव्र साधन हैं. Also Read - LAC पर हमारे जवानों की बहादुरी की गाथा आने वाली पीढ़ियां सुनेंगीः राजनाथ सिंह

समाचार एजेंसी एनएनआई ने सरकार के शीर्ष सैन्य अधिकारियों के हवाले इस बारे में एक रिपोर्ट जारी की है. इसमें भारतीय सैन्य अधिकारियों ने कहा है कि हम चीन की सेना की गतिविधियों पर करीबी नजर रख रहे हैं. Also Read - India-China Border Dispute: अमेरिका से समझौते के लिए भारत ने टाल दी थी चीन से 8वें दौर की वार्ता! अब फिर शुरू होगी बातचीत

सूत्रों ने कहा कि भारत और चीन पिछले 6 सप्ताह से राजनयिक और सैन्य स्तर की बातचीत कर रहे हैं, लेकिन चीन की तरफ से सैनिकों की संख्या और हथियारों की तैनाती में कोई कमी नहीं की गई है.

सूत्रों ने यह भी कहा कि सामान्यतौर पर चीन तिब्बत में अपनी दो डिविजनों की तैनाती करता है लेकिन इस बार उसने वहां भारतीय पोजिशन के करीब तैनाती के लिए दो अतिरिक्त डिविजनों को बुलाया है.

चीन की इस तैयारी के मद्देनजर भारतीय सेना ने भी सैनिकों की तैनाती बढ़ा दी है. भारत ने भी पूर्वी लद्दाख सेक्टर के लिए कम से कम दो डिविजनों को बुला लिया है.