नई दिल्ली: भारत ने अफगानिस्तान की राजधानी काबुल में मंगलवार को हुए आत्मघाती हमले की कड़ी निंदा करते हुए विश्व समुदाय से आतंकवाद के खिलाफ एकजुट होने का आह्वान किया. उल्लेखनीय है कि काबुल स्थित सैन्य अकादमी को निशाना बनाकर मंगलवार तड़के किए गए आत्मघाती हमले में कम से कम पांच लोगों की मौत हो गई. गत कई महीनों में काबुल में किया गया यह पहला बड़ा हमला है.

विदेश मंत्रालय ने एक बयान जारी करके कहा, ‘‘भारत कड़े शब्दों में इस घृणित हमले की निंदा करता जिसमें मंगलवार सुबह काबुल स्थित मार्शल फहीम राष्ट्रीय रक्षा विश्वविद्यालय के बाहर कई अफगान नागरिक हताहता हुए.’’ मंत्रालय ने कहा, ‘‘हम हमले में मारे गए लोगों के परिजनों, घायलों और अफगानिस्तान की सरकार एवं जनता के प्रति संवेदना व्यक्त करते हैं और घायलों के शीघ्र स्वस्थ होने की प्रार्थना करते हैं.’’ बयान में कहा गया है कि अंतरराष्ट्रीय समुदाय को आतंकवाद के खिलाफ लड़ाई में एकजुट होना चाहिए और आतंकवाद फैलाने वाले एवं प्रायोजित करने वालों की जवाबदेही तय की जानी चाहिए.


उल्लेखनीय है कि काबुल में तीन महीने से अपेक्षाकृत शांति के बाद मंगलवार सुबह स्थानीय समायानुसार सुबह सात बजे आत्मघाती हमलावर ने सैन्य अकादमी को निशाना बनाते हुए खुद को विस्फोट करके उड़ा लिया. अफगानिस्तान के रक्षा मंत्रालय के मुताबिक हमले में पांच लोगों की मौत हुई है जबकि कम से कम छह अन्य घायल हुए हैं. वहीं अफगानिस्तान के गृह मंत्रालय ने मृतकों की संख्या छह बतायी जिसमें चार सैन्य कर्मी हैं.