India Corona Updates: देश में कोरोना का ग्राफ धीरे धीरे नीचे आ रहा है जो कि एक राहत की बात है. बुधवार को फिर से देश में कोरोना वायरस के 50 हजार से अधिक मामले सामने आए. इससे एक दिन पहले मंगलवार को लगभग चार महीने बाद पहली बार ऐसा हुआ था कि 24 घंटे में देश में 45 हजार कोरोना के मामले आए थे. स्वास्थ्य मंत्रालय की रिपोर्ट के अनुसार पिछले 24 घंटे में 55 हजार, 838 नए मामले सामने आए जबकि कुल 702 लोगों ने कोविड की वजह से अपनी जान गंवाई. Also Read - Delhi COVID-19 Cases Update: दिल्‍ली में कोरोना के 4,906 नए,Total Death toll 9000 के पार

पिछले कुछ दिनों में कोरोना का ग्राफ काफी नीचे गिरा है. अब देश में एक्टिव केसेस की संख्या साढ़े सात लाख के नीचे पहुंच गई है. ताजा रिपोर्ट के मुताबिक इस समय देश में नए मामलों के बाद कुल एक्टिव केसेस की संख्या 7,15,812 है जबकि अभी तक कोरोना से कुल 77,06,946 लाख लोग संक्रमित हो चुके हैं. Also Read - Mann Ki Baat: किसान आंदोलन के बीच पीएम मोदी ने कृषि बिल को लेकर कही बड़ी बात, बोले- अब किसानों को...

देश में कुल 68,74,518 लोग अब तक इस बीमारी से ठीक हो चुके हैं, जिससे मरीजों के ठीक होने की राष्ट्रीय दर बढ़कर 89.20 प्रतिशत हो गई है, जबकि इस मामले में मृत्यु दर 1.51 प्रतिशत है. कोरोना वायरस संक्रमण के उपचाराधीन मरीजों की संख्या लगातार छठे दिन आठ लाख से नीचे रही. Also Read - Corona India Latest Update: 24 घंटे में करीब 500 लोगों की कोरोना से मौत, 94 लाख के पास पहुंची संक्रमितों की संख्या

देश में कोविड-19 के उपचाराधीन मरीजों की संख्या 7,15,812 है, जो कुल मामलों का 9.29 प्रतिशत है. भारत में कोविड-19 मामलों की संख्या 7 अगस्त को 20 लाख, 23 अगस्त को 30 लाख, 5 सितंबर को 40 लाख, 16 सितंबर को 50 लाख, 28 सितंबर को 60 लाख और 11 अक्टूबर को 70 लाख का आंकड़ा पार कर गई थी.

भारतीय चिकित्सा अनुसंधान परिषद (आईसीएमआर) के अनुसार, देशभर में 21 अक्टूबर तक कुल 9,86,70,363 नमूनों की जांच की गई है. बुधवार को 14,69,984 जांच हुई हैं. संक्रमण से हुई 702 नई मौतों में से 180 महाराष्ट्र में हुई हैं, जबकि कर्नाटक में 88, पश्चिम बंगाल में 64, दिल्ली में 47, छत्तीसगढ़ में 44, उत्तर प्रदेश में 41 और तमिलनाडु में 39 मौतें हुई हैं.

देश में अब तक हुई कुल 1,16,616 मौतों में से 42,633 महाराष्ट्र में हुई हैं, इसके बाद तमिलनाडु में 10,780, कर्नाटक में 10,696, उत्तर प्रदेश में 6,755, आंध्र प्रदेश में 6,508, पश्चिम बंगाल में 6,244, दिल्ली में 6,128, पंजाब में 4,060 और गुजरात में 3,660 मौतें हुई हैं. स्वास्थ्य मंत्रालय ने जोर देकर कहा कि 70 प्रतिशत से अधिक मौतें मरीजों में अन्य बीमारियां होने के कारण हुईं.