कोलकाता: भारत अंतरराष्ट्रीय विज्ञान महोत्सव के तीसरे दिन एक और गिनीज वर्ल्ड रिकॉर्ड बना. इस प्रकार दो गिनीज वर्ल्ड रिकॉर्ड बनाने के बाद शुक्रवार को तीसरा रिकॉर्ड बनाने का प्रयास होगा. विज्ञान महोत्सव के तीसरे दिन यहां 268 छात्रों ने एक साथ रेडियो किट असेबलिंग करके गुरुवार को एक नया गिनीज वर्ल्ड रिकॉर्ड बनाया. कार्यक्रम में कुल 490 छात्रों ने हिस्सा लिया जिनमें से 268 छात्रों ने तय समयसीमा के भीतर अपना काम पूरा करके यह कामयाबी हासिल की.

केंद्रीय विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी मंत्री हर्षवर्धन ने यह रिकॉर्ड देश के दो महान वैज्ञानिक सी.वी.रमण और जगदीश चंद्र बोस को समर्पित किया. विज्ञान के क्षेत्र में भारत के प्रथम नोबेल विजेता सी.वी. रमण की जयंती सात नवंबर को थी जबकि जगदीश चंद्र बोस की जयंती इसी महीने के 30 नवंबर को है. विज्ञान महोत्सव में पहले ही दिन स्पेक्ट्रोस्कोप असेंबलिंग के लिए देश के छात्रों ने गिनीज वर्ल्ड रिकॉर्ड बनाया था, जिसमें एक साथ 1,598 छात्रों ने सफलतापूर्वक यह कार्य पूरा किया था.

कोलकाता में पांच से आठ नवंबर तक चलने वाले 5वें भारतीय अंतरराष्ट्रीय विज्ञान महोत्सव (आईआईएसएफ)-2019 में चार गिनीज वल्र्ड रिकॉर्ड बनाने की कोशिश थी, मगर कार्यक्रम के दूसरे दिन इलेक्ट्रॉनिक्स शिक्षण कार्यक्रम में गिनीज वर्ल्ड रिकॉर्ड नहीं बन पाया, अब आखिरी सत्र में गुरुवार को मानव गुणसूत्र का सबसे बड़ा मानवीय चित्र बनाकर गिनीज वर्ल्ड रिकॉर्ड बनाने का प्रयास किया जाएगा. इसमें करीब 400 विद्यार्थी हिस्सा लेंगे.