Coronvirus Cases in India: क्या देश कोरोना के खिलाफ जंग में कमजोर पड़ने लगा है? यह सवाल हम नहीं बल्कि जुलाई महीने के आंकड़े कर रहे हैं. जुलाई महीने में देश के रिकॉर्ड संख्या में कोरोना के मरीज मिले हैं. इस महीने के 21 दिनों के भीतर देश में कोरोना के 6 लाख से अधिक मरीज मिले हैं. देश में कोरोना के दस्तक देने से लेकर 30 जून तक यानी करीब चार महीने में भी इतने मरीज नहीं मिले थे.Also Read - Assembly Polls 2022: कोरोना के मामलों के बीच क्या रैलियों, रोड शो पर लगी पाबंदियां बढ़ेंगी? चुनाव आयोग की अहम बैठक आज

जुलाई महीने के आंकड़े कोरोना के खिलाफ रणनीति पर भी सवाल खड़े कर रहे हैं. 30 जून तक देश में कोरोना के 5.90 मरीज थे जबकि जुलाई के 21 दिनों के भीतर ही छह लाख नए मरीज मिले हैं. इन 21 दिनों में कोरोना की वजह से 11 हजार से अधिक लोगों की मौत हुई है. यह आंकड़ा कोरोना की वजह से देश में हुई कुल मौत का 40 फीसदी है. Also Read - Booster Dose: कोरोना के बूस्टर डोज को लेकर WHO की तरफ से आया यह बयान...

केवल मंगलवार को कोरोना की वजह से देश में 670 लोगों की मौत हो गई. इस तरह अब तक 28,723 लोगों की मौत हो चुकी है. दुनिया में कोरोना से मौत के मामले में भारत सातवें स्थान पर है. मंगलवार को देश में 38444 मामले आए. जबकि बीते रविवार को एक दिन में कोरोना के 40 हजार से अधिक मामले आए थे. इस तरह देश में अब तक 11.9 लाख कोरोना मरीज मिल चुके हैं. इसमें से 7.5 लाख ठीक हो चुके हैं जबकि 4.1 लाख अब भी एक्टिव केस हैं. Also Read - Jammu Kashmir: बर्फ से ढके पहाड़ों पर 7-8 घंटे पैदल चलकर लगाने जाते हैं कोरोना वैक्सीन, तस्वीरें देख स्वास्थ्यकर्मियों को करेंगे सलाम!

मंगलवार को गुजरात में एक दिन में एक हजार से अधिक मामले मिले वहीं राजस्थान में एक दिन में सबसे अधिक 983 मामले मिले.

मंगलवार को दिल्ली में 1349 मरीज मिले जबकि 27 लोगों की मौत हो गई. महाराष्ट्र की स्थिति अब भी गंभीर बनी हुई है. राज्य में मंगलवार को आठ हजार से अधिक मामले मिले.