नई दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इजराइल और ब्राजील से शुक्रवार को कहा कि भारत कोरोना वायरस वैश्विक महामारी से निपटने में अपने मित्रों की हरसंभव मदद करने के लिए तैयार है. इजराइल के प्रधानमंत्री और ब्राजील के राष्ट्रपति केे भारत को धन्यवाद देेेेने केे बाद पीएम मोदी का बयान आया है. Also Read - स्वास्थ्य कर्मियों को लगने वाले टीके TMC कार्यकर्ताओं ने लगवाए इसी वजह से वैक्सीन की कमी हुई: दिलीप घोष

इजराइल के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू और ब्राजील के राष्ट्रपति जेयर बोलसोनारो ने मलेरिया रोधी दवा हाइड्रॉक्सीक्लोरोक्वीन और इसे बनाने में उपयोग होने वाली सामग्री के निर्यात को मंजूरी देने के लिए भारत को धन्यवाद दिया था, जिसके बाद मोदी ने यह बयान दिया. Also Read - कांग्रेस का मोदी सरकार से सवाल, कितने करोड़ लोगों को कोरोना का मुफ्त टीका मिलेगा और किसको नहीं मिलेगा?

मोदी ने ट्वीट किया, ”राष्ट्रपति जेयर बोलसोनारो, आपका शुक्रिया. इस चुनौतीपूर्ण समय में भारत और ब्राजील की साझेदारी पहले से मजबूत हुई है.” उन्होंने कहा कि भारत इस वैश्विक महामारी के खिलाफ मानवता के संघर्ष में योगदान देने के लिए प्रतिबद्ध है. Also Read - COVID-19 vaccination in India: भारत में दुनिया का सबसे बड़ा टीकाकरण अभियान शुरू, लगभग दो लाख कोरोना योद्धाओं को दी गई पहली खुराक; बड़ी बातें

बोलसोनारो ने हाइड्रॉक्सीक्लोरोक्वीन बनाने के लिए आवश्यक सामग्री भिजवाने को अनुमति देने के लिए मोदी का धन्यवाद करते हुए ट्वीट किया था जिसके जवाब में मोदी ने यह ट्वीट किया.

मोदी ने नेतन्याहू के ट्वीट के जवाब में कहा, ”हमें इस वैश्विक महामारी के खिलाफ मिलकर लड़ना होगा। भारत अपने मित्रों की हरसंभव मदद के लिए तैयार है.” उन्होंने कहा, ”मैं इजराइल के लोगों के कल्याण और उनके अच्छे स्वास्थ्य की कामना करता हूं.”

इससे पहले, नेतन्याहू ने ट्वीट किया था, ”इजराइल को क्लोरोक्वीन भेजने के लिए शुक्रिया, मेरे प्रिय मित्र नरेंद्र मोदी. इजराइल के सभी नागरिक आपका धन्यवाद अदा करते हैं.”

हाइड्रॉक्सीक्लोरोक्वीन को कोविड-19 के इलाज में कारगर समाधान माना जा रहा है.