भारत और पकिस्तान के संबंधों में फिर एक बार दरार आ गई है। इसका कारण है भारत-पाकिस्तान के बीच 23-24 अगस्त को होनेवाली NSA की मीटिंग, जो की अब नहीं होगी। इसका मुख्य कारण कश्मीर मुद्दा था, जिसपर पाकिस्तान अड़ा हुआ था। Also Read - Jammu&Kashmir: पाकिस्तान ने तोड़ा सीजफायर, भारतीय सेना ने दिया तगड़ा जवाब, तीन आतंकियों को मारा

Also Read - Jammu Kashmir: पाकिस्तान की फिर एक बड़ी आतंकी साजिश नाकाम, भारतीय सेना को मिली सुरंग

ये भी पढ़ें: एनएसए बैठक: इस्लामाबाद में हो रही है सरताज अज़ीज़ की प्रेस कांफ्रेंस Also Read - पाकिस्तान की इमरान सरकार के खौफ का बड़ा खुलासा, अभिनंदन को यूं ही नहीं छोड़ा था, देखें VIDEO

कल हुई प्रेस कांफ्रेंस के दौरान सुषमा स्वराज ने ये स्पष्ट कर दिया था कि NSA स्तर की इस मीटिंग में केवल आतंकवाद पर ही चर्चा होगी। अगर पाकिस्तान इस मुद्दे के आलावा किसी अन्य मुद्दे पर बात करना चाहती है तो यह बैठक नहीं की जाएगी। इसके आलावा भारत की ओर से पाकिस्तान के हुर्रियत नेताओं से बातचीत करने पर भी प्रतिबन्ध लगा दिया गया था।

ये भी पढ़ें: भारत की ओर से एनएसए बैठक से सम्बंधित प्रेस कॉंफ्रेंस दिल्ली में हुई

सुषमा के इस बयान के बाद पाकिस्तान ने कल देर रात यह घोषणा कर दी कि NSA की यह वार्ता नहीं की जाएगी। सुषमा ने कल प्रेस कांफ्रेंस में कहा था कि अगर शर्तों के आधार पर यह बैठक सरताज अज़ीज़ नहीं करेंगे तो पाकिस्तान और भारत के बीच कोई बैठक नहीं होगी।