देश भर में ईद उल अज़हा यानि बकरीद का त्यौहार काफी धूमधाम से मनाया जा रहा है। पूरे देश की मस्जिदों में बड़ी तादाद में लोगों ने नमाज अदा की। इस मौके पर लोगों ने अपने अपनों की सलामती की दुआए मांगी।Also Read - Ayushman Bharat Digital Mission: जानिये क्या है डिजिटल हेल्थ कार्ड? पंजीकरण की प्रक्रिया और दस्तावेजों के बारे में

इस मौके पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने दी बधाई और साथ में ही ईद के त्यौहार को शांति से मनाने की अपील। त्याग और कुर्बानी का त्यौहार है बकरीद। इस त्यौहार का मकसद बुराई का खातमा कर अच्छाई की शुरुआत करने से जुड़ा है। Also Read - नए संसद भवन के निर्माण में लगे कामगारों को पीएम मोदी का तोहफा, 'योगदान को याद रखने के लिए बनाया जाएएगा डिजिटल म्यूजियम'

तीन दिन तक मनाया जाता है। यह त्यौहार जिसमे लोग गले मिल कर अपना प्रेम व्यक्त करते है। यह एक ऐसा त्यौहार है जिसमे बकरो की कीमत आसमान छूती है और उन्हें क़ुरबानी के लिए लाखो में ख़रीदा जाता है। क़ुरबानी के बाद कुछ हिसा गरीबो में दान किया जाता है। Also Read - PM Modi at New Parliament Building: नए संसद भवन के निर्माण स्थल पर अचानक पहुंचे पीएम मोदी, एक घंटे तक किया निरीक्षण