नई दिल्ली: भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने विश्व बैंक की कारोबार सुगमता(Ease of Doing Business) रैंकिंग में देश छलांग लगाने को हर भारतीय के लिए गर्व की बात बताया है. वहीं, उन्होंने कांग्रेस पर कटाक्ष करते हुए कहा कि उसके ‘‘अर्थशास्त्री’’ प्रधानमंत्री यानी मनमोहन सिंह के समय देश 142 वें स्थान पर खिसक गया था. वहीं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी इसकी सराहना की है. Also Read - प्रधानमंत्री मोदी की मां ने सालों में बचाए 25 हजार रुपए PM CARES Fund फंड में किए दान

शाह ने कई ट्वीट कर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को उनके ‘‘सुधारवादी रुख’’ के लिए बधाई दी, जिसकी बदौलत रैंकिंग में भारत के स्थान में सुधार हुआ. भाजपा अध्यक्ष ने कहा, ‘‘हर भारतीय के लिए यह गर्व की बात है कि भारत ने विश्व बैंक की कारोबार सुगमता रैंकिंग में फिर से ऊंची छलांग लगाई है. अब हम पिछले साल के सौवें स्थान के मुकाबले 77वें स्थान पर हैं.’’ Also Read - Covid-19 Fight: कोरोना से लड़ने के लिए केंद्र सरकार का एक और बड़ा कदम, गठित हुईं 11 टीमें

रांची से मिली खबर के अनुसार, झारखंड के मुख्यमंत्री रघुवर दास ने कारोबार सुगमता में भारत की 23 पायदान ऊपर की छलांग को प्रधानमंत्री मोदी की नीतियों की जीत बताया. अपने ट्वीट में मुख्यमंत्री ने इस उपलब्धि के लिए प्रधानमंत्री मोदी के नेतृत्व एवं उनकी नीतियों की सराहना की. Also Read - Mann Ki Baat: पीएम नरेंद्र मोदी ने कोरोना संकट पर देशवासियों से मांगी माफी, कही ये बड़ी बातें

क्या है ईज ऑफ डूइंग बिजनेस इंडेक्स
यह इंडेक्स विश्व बैंक की ओर से जारी किया जाता है जिसमें कई अलग-अलग पैरामीटर देखे जाते हैं. सभी मापकों को मिलाकर यह देखा जाता है कि कारोबार करने में लोगों के सामने कैसी स्थिति है. इसके अलावा इसमें यह भी देखा जाता है कि व्यापार करने में किस प्रकार की समस्याओं का सामना करना पड़ता है.

किस आधार पर होता है फैसला
अलग-अलग देशों में कारोबार की सुगमता के आधार पर इस इंडेक्स को तैयार किया जाता है जिसमें मुख्यत: रेग्युलेशन की स्थिति देखी जाती है. सरकारी रेग्युलेशन के चलते कारोबार करने की स्थितियों के बारे में भी विचार किया जाता है. इसके अलावा भी कई फैक्टर हैं जिन्हे जहन में रखते हुए इसे तैयार किया जाता है. इनमें प्रमुख हैं- कंस्ट्रक्शन परमिट, रजिस्ट्रेशन, लोन और टैक्स पेमेंट की मशीनरी. इन्हीं सब आधार पर देशों को इज ऑफ डूइंग बिजनेस इंडेक्स में स्थान जारी किया जाता है.

(इनपुट एजेंसी से भी)