नई दिल्ली: स्मार्टफोन बनाने वाली कंपनी शाओमी की एमआई ब्राउजर प्रो और मीटू टेक्नोलाजी की शार्ट वीडियो मीपे उन 47 एप की सूची में शामिल हैं, जिसे भारत ने जुलाई के अंत में प्रतिबंधित कर दिया था. ये 47 एप जुलाई अंत में प्रतिबंधित किए गए वहीं इससे पहले जून में भारत ने राष्ट्रीय सुरक्षा चिंताओं के मद्देनजर टिकटॉक एवं हेलो एप सहित 59 चीनी एप पर प्रतिबंध लगाया था.Also Read - Punjab: भारत-पाकिस्तान सीमा के पास हथियारों का बड़ा जखीरा मिला, एक किलो हेरोइन बरामद

सरकार ने जहां प्रतिबंधित 59 एप की सूची सार्वजनिक की थी वहीं उसने दूसरी सूची में प्रतिबंधित एप का खुलासा नहीं किया है. ऐसा माना जाता है कि दूसरी सूची में शामिल ज्यादातर एप पहले प्रतिबंधित किए गए एप के क्लोन हैं. मीडिया रिपोर्ट में हालांकि कहा गया है कि इस सूची में कुछ नए एप भी शामिल हैं. Also Read - आर्मी ने LAC के अग्र‍िम मोर्चों पर तैनात की बोफोर्स तोपें, चीन को मुंहतोड़ जवाब देने की तैयारी

शाओमी की एमआई ब्राउजर प्रो और मीटू टेक्नोलाजी की शार्ट वीडियो मीपै के साथ ही इसमे गेमिंग एप हेरोस वार, फोटो एडिटर एयरब्रश और कैमरा एप बॉक्सकैम शामिल है. मीपे, एयरब्रश और बॉक्सकैम चीनी कंपनी मीटू टेक्नोलाजी के एप हैं. मीटू को पहली सूची में प्रतिबंधित कर दिया गया था. अन्य एप में वीडियो एडिटिंग एप कैपकट, वैदू सर्च, नेटईज ईमेल सर्विस और सर्च लाइट शामिल हैं. Also Read - Good news: भारत में जल्‍द लौटेगा हाई सैलरी का दौर, 2022 में कर्मचारियों को मिलेगा अच्‍छा इंक्रीमेंट, र‍िपोर्ट