नई दिल्ली: भारत-अमेरिका पार्टनरशिप फोरम (India-US Partnership Forum) में पीएम मोदी (PM Narendra Modi) ने भारत में कोरोना के दौरान चुनौतियों का सामना करने को लेकर बात की. पीएम मोदी ने कहा कि महामारी भी हमारी उम्मीदों और हमारी हसरतों को ख़त्म नहीं कर पाई. 2019 में भारत में विदेशी निवेश 20 प्रतिशत बढ़ गया है. Also Read - पीएम मोदी ने बनारस के जिन गांवों को लिया गोद, वहां ले जाए जाएंगे विदेशी पर्यटक, ये है CM योगी का प्लान

पीएम ने कहा कि अपनी क्षमताएं बढ़ाने पर ध्यान दे रहे हैं. कोरोना (Corona Virus) को लेकर उन्होंने कहा कि भारत ने सबसे पहले मास्क पहनने की सलाह दी. हमारे यहाँ मृत्यु दर दुनिया में सबसे कम है, जबकि और जगहों पर कोरोना से अधिक मौतें हो रही हैं. सबसे पहले हमने जागरूकता फैलाई. कुछ महीनों में हमने कई चुनौतियों का सामना किया. Also Read - आज के युवा भगत सिंह कैसे बन सकते हैं? सवाल का पीएम मोदी ने दिया जवाब

पीएम मोदी ने कहा कि कोविड-19 महामारी से अनेक चीजें प्रभावित हुई होंगी, लेकिन 130 करोड़ भारतीयों की आकांक्षाएं प्रभावित नहीं हुई हैं. पीएम मोदी ने कहा कि भारत ने रिकॉर्ड समय में अपनी कोविड-19 संबंधी सुविधाओं का विस्तार किया, मौजूदा परिस्थिति में नई सोच की जरूरत है जो मानव-केंद्रित हो.