नई दिल्ली: सांस्कृतिक विरासत संरक्षण के क्षेत्र में दिये जाने वाले यूनेस्को एशिया प्रशांत पुरस्कार के लिए देश की आर्थिक राजधानी मुंबई के 155 साल पुराने फ्लोरा फाउंटेन और दो अन्य विरासत स्थल सहित कुल चार स्थानों को भारत से चयनित किया गया है. इसकी घोषणा सोमवार को की गयी.

दिलचस्प: JNU से पढ़े अभिजीत के साथ उनकी पत्नी एस्थर को भी मिला है नोबेल पुरस्कार, 2015 में की थी शादी

सांस्कृतिक विरासत संरक्षण के लिए यूनेस्को एशिया-प्रशांत पुरस्कार की घोषणा मलेशिया के पेनांग में आयोजित एक समारोह में की गई . इस पुरस्कार के लिए जिन चार स्थानों का चयन किया गया है, उनमें अहमदाबाद स्थित भारतीय प्रबंध संस्थान का विक्रम साराभाई पुस्तकालय शामिल है. इसके अलावा केनेसेठ इलियाहू सिनेगाग, ग्लोरी चर्च तथा फ्लोरा फाउंटेन को ये पुरस्कार मिला है. ये तीनों मुंबई में स्थित है.