नई दिल्ली: भारतीय वायुसेना आज अपना 88वां स्थापना दिवस मना रही है. ऐसे में हर साल की भांति इस साल भी गाजियाबाद के हिंडन एयरबेस पर जश्न का माहौल है. भारतीय वायुसेना के लड़ाकू विमानों ने हिंडन एयरबेस पर खूब करतब दिखाया. बता दें कि पहली बार राफेल को वायुसेना दिवस पर अपनी ताकत को दिखाने का मौका मिला है. इस दौरान रोफेल ने लोगों का खूब विश्वास जीता और अपना दम दिखाया. राफेल के साथ-साथ सूर्यकिरण टीम ने करतब दिखाए. इस दौरान जैगुआर लड़ाकू विमान ने करतब दिखाए. बता दें कि सूर्यकिरण टीम के अंतर्गत कई लड़ाकू विमान आते हैं जो दुश्मन को वक्त रहते ध्वस्त करने में एक्सपर्ट हैं.Also Read - इजराइल के दौरे पर वायु सेना प्रमुख, इन मुद्दों पर होगी वार्ता

वायुसेना दिवस के मौके पर आज राफेल ने भारतीय आकाश में गर्जना की और भारत के दुश्मनों को चेतावनी दी. राफेल के साथ फॉर्मेंशन में जैगुआर लड़ाकू विमान थे. इसके बाद स्वदेशी व सबसे हल्के लड़ाकू विमान तेजस ने अपना दम दिखाया. यही नहीं इस दौरान चिनूक हेलीकॉप्टर, अपाचे हेलीकॉप्टर, ग्लोबमास्टर, सुखोई इत्यादि लड़ाकू विमानों ने हिंडन एयरबेस पर अपना दम-खम दिखाया. Also Read - Indian Air Force Airmen Admit Card 2021 Released: CASB IAF ने जारी किया Airmen का एडमिट कार्ड, इस Direct Link से करें डाउनलोड 

Also Read - कांग्रेस का सवाल, 'राफेल पर नए खुलासे के बाद चुप क्यों हैं पीएम'

बता दें कि एयरबेस पर सेना की तीनों टुकड़ियां मौजूद हैं. साथ ही कई वरिष्ठ अधिकारी भी हिंडन एयरबेस पर मौजूद हैं. यहां चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ बिपिन रावत भी मौजूद है. बता दें कि परेड़ के दौरान वायुसेना प्रमुख आरकेएस भदौरिया ने सबसे पहले गार्ड ऑफ आनर का अभिवादन किया.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इस मौके पर वायुसेना को बधाई दी. पीएम ने ट्वीट कर लिखा- एयर फोर्स डे पर भारतीय वायुसेना के सभी वीर योद्धाओं को बहुत-बहुत बधाई. आप न सिर्फ देश के आसमान को सुरक्षित रखते हैं, बल्कि आपदा के समय मानवता की सेवा में भी अग्रणी भूमिका निभाते हैं. मां भारती की रक्षा के लिए आपका साहस, शौर्य और समर्पण हर किसी को प्रेरित करने वाला है.