नयी दिल्ली: भारतीय सेना का एक चीता हेलीकॉप्टर पूर्वी भूटान में दुर्घटनाग्रस्त हो गया. इस हादसे में भूटानी सेना के एक कैप्टन समेत दोनों पायलटों की मौत हो गयी. सेना के अधिकारियों ने बताया कि हादसे में मारे गये पायलटों की पहचान भारतीय सेना के लेफ्टिनेंट कर्नल रजनीश परमार और भूटान के कैप्टन कलजंग वांगड़ी के रूप में हुई है. Also Read - LAC पर भारतीय सेना की जासूसी कर रही है PLA, अधिकारियों को दी गई जानकारी

  Also Read - भारत अपने पड़ोसी देशों के लिए बना संकटमोचक, इन देशों को आज भेजे जाएंगे Vaccine

सेना के एक प्रवक्ता ने बताया कि एकल इंजन वाला हेलीकॉप्टर अरुणाचल प्रदेश में खिरमू से भूटान में योनफुला जा रहा था और दोपहर करीब एक बजे के बाद उसका रेडियो और दृश्य संपर्क टूट गया. दोनों देशों के बीच रक्षा एवं सुरक्षा सहयोग के तहत भारतीय सेना भूटानी सशस्त्र सेनाओं के पायलटों के लिए प्रशिक्षण कार्यक्रम चला रही थी.

उच्चस्तरीय जांच के आदेश
सूत्रों ने बताया कि हादसे के तुरंत बाद तलाशी और बचाव अभियान शुरू कर दिया गया और हेलीकॉप्टर का मलबा मिल गया है. यह हादसा करीब एक बजे योनफुला के पास हुआ. सूत्रों ने बताया कि इस संबंध में उच्चस्तरीय जांच के आदेश दिए गए हैं. भारतीय सैन्य प्रशिक्षण दल (आईएमटीआरएटी) भूटानी सेना के जवानों को प्रशिक्षण दे रहा है.