भुज (गुजरात): गुजरात के कच्छ जिले में अंतरराष्ट्रीय सीमा पर मंगलवार को पाकिस्तान के एक ड्रोन को मार गिराया गया. पुलिस सूत्रों ने यह जानकारी दी. उन्होंने बताया कि ड्रोन का मलबा कच्छ के अब्दासा तालुका के ननघाटाद गांव के पास दिखा है. Also Read - भाजपा शासित राज्यों ने कोविड-19 के की लड़ाई में आत्मसमर्पण कर दिया है : कांग्रेस

Also Read - चीन से तनाव: रक्षामंत्री ने तीनों सेनाओं के प्रमुखों और Chief of Defence Staff की मीटिंग की

  Also Read - डोकलाम के बाद भारत और चीन की सेनाओं के बीच हो सकती है सबसे बड़ी सैन्य तनातनी

सूत्रों ने बताया कि सुबह करीब छह बजे आवाज सुनने के बाद गांव वाले मौके पर पहुंचे और ड्रोन का मलबा देखा. यह पूछने पर कि क्या भारतीय सशस्त्र बलों ने पाकिस्तानी ड्रोन को मार गिराया है, पुलिस के एक अधिकारी ने पहचान गुप्त रखने की शर्त पर बताया कि ऐसी एक घटना हुई है, हम उसकी जांच कर रहे हैं.’’ अधिकारी ने हालांकि और जानकारी देने से इंकार कर दिया.

पुलवामा आतंकी हमले का बदला लेने पर देशभर ने किया भारतीय वायुसेना को सलाम

भारतीय वायुसेना ने कई आतंकी शिविरों को किया तबाह

भारतीय वायु सेना के लड़ाकू जेट विमानों ने मंगलवार को तड़के नियंत्रण रेखा के दूसरी ओर, पाकिस्तानी हिस्से में कई आतंकी शिविरों पर बम गिराए. सरकार से जुड़े सूत्रों ने यह जानकारी देते हुए बताया कि यह कार्रवाई जम्मू कश्मीर के पुलवामा में 14 फरवरी को आतंकी गुट जैश ए मोहम्मद द्वारा किए गए आत्मघाती हमले के ठीक 12 दिन बाद की गई है. पुलवामा हमले में सीआरपीएफ के 40 जवान शहीद हो गए थे.

भारतीय वायुसेना ने पाकिस्‍तान में Terror Camps को किया तबाह, जानें अब तक का पूरा घटनाक्रम

मिराज 2000 लड़ाकू जेट विमानों ने किया हमला

उन्होंने बताया कि मिराज 2000 लड़ाकू जेट विमानों ने बालाकोट, मुजफ्फराबाद और चकोटी में जैश ए मोहम्मद के आतंकी शिविरों पर सुनियोजित हमला कर बम गिराए और उन्हें नष्ट किया. अभियान के बारे में रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को अवगत कराया. कुछ घंटे बाद प्रधानमंत्री मोदी ने सुरक्षा संबंधी कैबिनेट समिति की एक बैठक की अध्यक्षता की. (इनपुट एजेंंसी)