तोक्यो: जापान ने कोरोना वायरस संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए जिस ‘डायमंड प्रिंसेज’ क्रूज जहाज को अलग रखा है, उस पर सवार और 65 लोग इससे संक्रमित पाए गए हैं. इसी जहाज पर सवार एक भारतीय चालक दल के सदस्य ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को आपातकालीन मैसेज भेजकर ‘सुरक्षित वापस लाने’ के लिए मदद मांगी है.

स्वास्थ्य मंत्रालय ने सोमवार को बताया कि अभी तक 135 लोग इस वायरस से संक्रमित हुए हैं. डायमंड प्रिंसेस क्रूज जहाज पिछले सप्ताह के शुरुआत में जापान के तट पर पहुंचा था. जहाज से हांगकांग में उतरे एक यात्री के संक्रमित होने की पुष्टि होने के कारण जहाज को तट पर सबसे अलग रखा गया है.

एनडीटीवी की एक रिपोर्ट के अनुसार, नॉर्थ बंगाल के एक शेफ बिनय कुमार सरकार ने सोशल मीडिया पर मदद के लिए भारत सरकार से अपील की है. अपने SOS वीडियो में, बिनय ने सरकार से आग्रह किया कि उसके किसी भी भारतीय सहयोगी या महामारी पैदा करने वाले वायरस की जाँच नहीं की गई. संक्रमित होने से पहले एक सुरक्षित घर की तलाश में, उन्होंने पीएम मोदी से भारतीयों को जहाज पर अलग करने और उन्हें जल्द से जल्द घर वापस लाने के लिए कहा.

इससे पहले स्वास्थ्य मंत्रालय ने कोई अतिरिक्त जानकारी दिए बगैर एक बयान में कहा, ‘‘103 लोगों के नमूनों की जांच रिपोर्ट आ गई है और उनमें से 65 लोगों के कोरोना वायरस से संक्रमित होने की पुष्टि हुई है.’’ बयान के अनुसार, जहां भी जरुरत है सरकार कोरोना वायरस संक्रमण को लेकर लोगों के नमूनों की जांच कर रही है. क्रूज जहाज के ऑपरेटर ने बताया कि 66 और लोगों के संक्रमित होने की पुष्टि हुई है. उनमें से ज्यादातर जापानी हैं लेकिन कुछ ऑस्ट्रेलिया, फिलीपीन, कनाडा, ब्रिटेन और यूक्रेन के नागरिक भी हैं.

(इनपुट ऐजेंसी)