इस्लामाबाद. पाकिस्तान में भारतीय उच्चयोग के एक अधिकारी पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर (पीओके) के एक मंत्री की मौजूदगी पर विरोध जताते हुए दक्षेस की बैठक का बहिर्गमन कर दिया. एक सूत्र ने यहां यह जानकारी दी. Also Read - SAARC देशों की वीडियो कांफ्रेंसिंग में पाकिस्तान ने उठाया कश्मीर मुद्दा, भारत बोला- मानवीय मुद्दे पर राजनीति नहीं

रविवार को इस्लामाबाद में ‘दक्षेस चार्टर दिवस’ के मौके पर दक्षेस वाणिज्य एवं उद्योग मंडल की बैठक में पीओके के मंत्री चौधरी मोहम्मद सईद की मौजूदगी पर अपना विरोध दर्ज कराने के लिए भारतीय राजनयिक शुभम सिंह बैठक छोड़ कर चले गए. भारत कश्मीर को अपना अभिन्न अंग मानता है और पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर के किसी भी मंत्री को मान्यता नहीं देता है. Also Read - PAK में 2 करोड़ मास्क की तस्करी में फंसा है सार्क देशों की वीडियो कॉन्फ्रेंस में कश्मीर मुद्दा उठाने वाला इमरान का खास

उरी हमले का असर
उरी में भारतीय सेना के शिविर पर हुए भयावह आतंकी हमले के विरोध में भारत ने वर्ष 2016 में इस्लामाबाद में होने वाले 19वें दक्षेस शिखर सम्मेलन में भाग लेने से इनकार कर दिया था. उसके बाद बांग्लादेश, भूटान और अफगानिस्तान ने भी बैठक में शामिल होने से इनकार कर दिया था. इसके मद्देनजर दक्षेस शिखर सम्मेलन ही रद्द कर दिया गया था. उसके बाद से दक्षेस की कोई बैठक नहीं हुई है. Also Read - SAARC देशों के साथ वीडियो कांफ्रेंस में पाकिस्तान ने उठाया कश्मीर मुद्दा, कहा- सभी तरह की पाबंदी को हटा लेना चाहिए